अतीत की गलतियों से सीखने की प्रेरणा देती है फ़िल्म सम्राट पृथ्वीराज: सीएम योगी

0
483
.
  • रिलीज से पहले यूपी में टैक्स फ्री हुईसम्राट पृथ्वीराज
  • अद्भुत अभिनय के साथ वर्तमान को इतिहास से जोड़ती है फ़िल्म: योगी
  • मंत्रिमंडल के सहयोगियों के साथ सीएम योगी ने देखी फ़िल्म सम्राट पृथ्वीराज
  • मनोरंजन और इतिहास का अद्भुत संगम है फ़िल्म, शानदार प्रयास के लिए पूरी टीम को बधाई: योगी
  • डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी,अक्षय कुमार, मानुषी छिल्लर की टीम का प्रयास सराहनीय: योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फ़िल्म सम्राट पृथ्वीराज को उत्तर प्रदेश में टैक्स फ्री करने की घोषणा की है। गुरुवार को फ़िल्म के निर्देशक डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी और प्रमुख कलाकार अक्षय कुमार, मानुषी छिल्लर की मौजूदगी में सीएम योगी ने अपने मंत्रिमंडल सहयोगियों के साथ फ़िल्म देखी।  उन्होंने कहा कि यह फ़िल्म अतीत की गलतियों से सीखने की प्रेरणा देने वाली है। आजादी का अमृत महोत्सव वर्ष आत्मचिंतन का काल है।

प्रधानमंत्री  ने राष्ट्रोत्थान का जो यज्ञ प्रारंभ किया है, उसमें हम सभी का योगदान महत्वपूर्ण है।हम अगले 25 वर्ष के अमृत काल का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं, तब ऐसी फिल्मों का निर्माण देश की राष्ट्रीय चेतना को जागृत करने में सहायक होता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान को अतीत से जोड़ने का यह प्रयास सराहनीय है।

मुख्य भूमिका में अक्षय कुमार और मानुषी छिल्लर ने शानदार अभिनय किया है, तो वहीं अन्य कलाकारों ने भी अपने अभिनय से फ़िल्म को बेहतर बनाने में योगदान किया है। इसके लिए फ़िल्म की पूरी टीम बधाई की पात्र है।

लोकभवन में आयोजित स्पेशल स्क्रीनिंग के बाद सीएम ने कलाकारों का अभिनन्दन किया। साथ ही कहा कि वर्षों के अंतराल के बाद आज फ़िल्म देखने का सुअवसर मिला। हालांकि राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के आगामी कार्यक्रमों की तैयारियों की व्यस्तता के कारण शो में थोड़ी देर से पहुंच सके। सीएम ने फ़िल्म निर्देशक चंद्रप्रकाश द्विवेदी कृत टीवी धारावाहिक ‘चाणक्य’ को भी याद किया।

बता दें कि भारतीय इतिहास के अमर नायक अंतिम हिंदू राजा सम्राट पृथ्वीराज चौहान की शौर्य गाथा पर आधारित यह फ़िल्म 03 जून को थियेटर में रिलीज हो रही है। फ़िल्म में अक्षय कुमार, मानुषी छिल्लर, संजय दत्त, सोनू सूद मुख्य भूमिका में हैं।

फ़िल्मों के लिए पहली पसंद बन रहा उत्तर प्रदेश

कला, संस्कृति और सिनेमा जैसी विधाओं को प्रोत्साहन देने की योगी सरकार को कोशिशों का ही नतीजा है कि उत्तर प्रदेश फ़िल्म निर्माताओं की पहली पसंद बनता जा रहा है। बीते 05 साल में सिने जगत की जरूरत को ध्यान में रखते हुए प्रदेश की फ़िल्म नीति को व्यवहारिक बनाया गया है। प्रदेश में भीतर शूटिंग करने और स्थानीय कलाकारों को अवसर दिए जाने पर सरकार की ओर से निर्माताओं को सब्सिडी भी दी जाती है। वहीं राष्ट्रीय महत्व की फिल्मों को टैक्स फ्री भी किया रहा है।

 

.