आजम खान अपने बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ पहुंचे रामपुर जेल, जानें वजह

0
44
.

रामपुर. सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम जमानत मिलने के बाद 27 महीने बाद उत्तर प्रदेश की सीतापुर जेल से रिहा हुए सपा नेता और विधायक आजम खान (SP leader Azam Khan) रविवार को अपने बेटे और स्वार से विधायक बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ रामपुर जेल पहुंचे. बताया जा रहा है कि आजम खान रामपुर जेल में बंद समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का हालचाल जानने पहुंचे है. सूत्र बताते हैं कि जेल में बंद सपा समर्थक आजम खान के करीबी बताए जा रहे है. वहीं रामपुर से विधायक आजम खान, आज पार्टी की विधानमंडल दल की बैठक में नहीं गए. उनके साथ ही उनके बेटे और स्वार से विधायक अब्दुल्लाह आजम खान भी पार्टी की मीटिंग में शामिल नहीं हुए. उधर, शिवपाल सिंह यादव भी सपा की बैठक में नहीं गए थे.

जेल से रिहा होने के बाद आजम अपने गृह जिले रामपुर पहुंचे थे. आजम खान ने कहा, मैं उन सभी का शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने मेरे लिए प्रार्थना की और सहानुभूति दी… चाहे वह सपा, बसपा, कांग्रेस, टीएमसी या यहां तक ​​कि बीजेपी हो, सभी दलों को कमजोर लोगों के बारे में सोचने की जरूरत है. इससे पहले उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का शुक्रिया अदा किया था और जेल में बिताए 27 महीनों का भी जिक्र किया था.

VIDEO: घर में पालतू कुत्ता रखने वाले हो जाए सावधान! CM योगी आदित्यनाथ ने दिए सख्त निर्देश

बता दें कि दो साल बाद आजम के जेल से रिहा होने पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव, सपा नेता नरेश उत्तम समेत कई नेताओं ने खुशी जताई थी. शिवपाल सिंह यादव उन्हें रिसीव करने जेल भी पहुंचे थे. आजम रामपुर जिले में जमीन हथियाने सहित कई अन्य मामलों में सीतापुर जेल में बंद थे. उनपर लगभग 90 मामले दर्ज हैं. उन्हें 88 मामलों में जमानत मिल चुकी है. वे फरवरी 2020 से जेल में बंद थे.

Tags: Abdullah Azam, Akhilesh yadav, Azam Khan, Rampur news, Samajwadi Party समाजवादी पार्टी, UP politics

Source link

.