कैबिनेट मंत्री डॉ संजय निषाद के बंगले में डॉ राममनोहर लोहिया की मूर्ति को पैक किया गया

0
406
.

समाज सुधारक डॉ राममनोहर लोहिया के जिन आदर्शों का गुणगान प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री कर रहे वो उनके ही मंत्री को पसंद नही हैं। योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री को लोहिया से इतना परहेज है कि अपने बंगले में बनी उनकी मूर्ति को प्लाईवुड की दीवारों में बंद करवा दिया। दीवार ऐसी बनाई गई है कि मूर्ति का तनिक भी हिस्सा नजर न आये।

लखनऊ के विक्रमादित्य मार्ग पर 1 नम्बर बंगला मतस्य विभाग के कैबिनेट मंत्री व निषाद पार्टी चीफ संजय निषाद के नाम आवंटित है। यह बंगला दो दशक तक लोहिया ट्रस्ट के नाम आवंटित रहा। इसी बंगले के लॉन में समाजवादी चिंतक डॉ राम मनोहर लोहिया की बड़ी सी मूर्ति लगी हुई है। बंगला अलॉट होते ही मंत्री ने सबसे पहले इस मूर्ति को नजरों से ओझल करने के लिए प्लाईवुड की दीवारों में बंद करवा दिया।

अप्रैल में संजय निषाद को अलॉट हुआ था बंगला

मंत्री डॉ संजय निषाद को पहले मॉल एवेन्यू में बंगला आवंटित था। लेकिन मंत्री बनने के बाद है उन्हें बड़े बंगलों में से एक विक्रमादित्य मार्ग का एक नम्बर बंगला आवंटित किया गया। यह बंगला सिंतबर 2019 से खाली पड़ा हुआ था। इससे पहले यहां लोहिया ट्रस्ट हुआ करता था लेकिन 2018 में राज्य संपत्ति विभाग की ओर से ट्रस्ट को बेदखली का नोटिस दिया गया था।

लोहिया के सिद्धांतों के मुरीद हैं पीएम मोदी

मंत्री संजय निषाद को जिस लोहिया से इतना परहेज है उनकी तारीफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई मौकों पर कर चुके हैं। पीएम मोदी ने 2015 में लोहिया के बारे में कहा था कि राम मनोहर लोहिया, जिन्होंने भारतीय राजनीति पर गहरी छाप छोड़ी, की जयंती पर मैं उनके प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। मोदी ने कहा था कि “कई अन्य बातों के अलावा स्वच्छता के प्रति डॉ. राम मनोहर लोहिया की प्रतिबद्धता हमें लगातार प्रेरित करती रहती है। 2021 में पीएम मोदी ने राम मनोहर लोहिया की जयंती पर उन्हें नमन करते हुए कहा कि कई ऐतिहासिक घटनाओं में उनकी अग्रणी भूमिका रही और हमारे स्वतंत्रता संग्राम में भी उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

लोहिया को संघर्षशील नेता के रूप में देखते हैं CM योगी

CM योगी ने पिछले साल कहा था कि हमारे महापुरुषों ने, खासकर बाबा साहब और लोहिया जी जैसे चिंतकों ने देश में जिस जनप्रतिनिधित्व और जनभागीदारी की कल्पना की थी, आदरणीय मोदी जी के नेतृत्व में वो सरकार से लेकर समाज तक साकार हो रही है। सीएम योगी ने विधानसभा में कहा कि जब समाजवाद की बात होती थी तो डा.लोहिया, जयप्रकाश जी जैसे संघर्षशील नेताओं की चर्चा होती है।

 

Source link

.