कोरोना की थर्ड वेव, सेकेण्ड वेव की तरह खतरनाक नहीं: सीएम

0
63
इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर
.

प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केसों की कुल संख्या 33,900, राजधानी लखनऊ में 4702 एक्टिव केस

फर्स्ट आई न्यूज डेस्क:
लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां कोरोना प्रबन्धन एवं नियंत्रण के लिए स्थापित इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर (आई0सी0सी0सी0) का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की थर्ड वेव आ चुकी है, लेकिन कोरोना की थर्ड वेव, सेकेण्ड वेव की तरह खतरनाक नहीं है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आज सुबह तक कोरोना के एक्टिव केसों की कुल संख्या 33,900 है, जिसमें 99 प्रतिशत मामले एसिम्टोमैटिक हैं। संक्रमित लोगों का घर पर ही सफलतापूर्वक उपचार हो रहा है। प्रत्येक जनपद में आई0सी0सी0सी0 कार्य कर रहे हैं, जिनके माध्यम से कोविड संक्रमितों से संवाद बनाकर उन्हें मेडिसिन किट सहित शासन की आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं। कोरोना की सेकेण्ड वेव में मृत्यु दर ज्यादा थी, लेकिन थर्ड वेव में संक्रमित व्यक्ति आराम करने पर 03 से 05 दिन में ठीक हो जा रहे हैं। कोरोना संक्रमितों के हॉस्पिटलाइजेशन की दर बहुत ही कम है। प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 4702 एक्टिव केस हैं, जिनमें 45 लोग अस्पताल में भर्ती हुए हैं। इनमें हल्का संक्रमण देखने को मिला है। यह भर्ती हुए लोग पहले से किसी बीमारी से ग्रसित थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सावधानी और सतर्कता कोरोना से बचने के सबसे बड़े उपाय और उपचार हैं। यद्यपि कोरोना की थर्ड वेव खतरनाक नहीं है फिर भी हम सभी को कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन करना होगा।
.