क्रूज ड्रग्स केस का गवाह गोसावी फ्रॉड के 3 साल पुराने केस में पुणे से गिरफ्तार

0
57
.

क्रूज ड्रग्स केस में गवाह और आर्यन खान के साथ सेल्फी लेकर चर्चा में आए किरण गोसावी को पुणे पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है। गोसावी की गिरफ्तारी विदेश में नौकरी दिलाने का झांसा देकर कई युवकों को ठगने के मामले में हुई है। बुधवार देर रात से गोसावी के पुणे में सरेंडर करने की चर्चा थी, लेकिन गुरुवार सुबह उसकी गिरफ्तारी की खबर आ गई।

गोसावी को आज दोपहर करीब 12 बजे पुणे की शिवाजीनगर कोर्ट में पेश किया जाएगा। फिलहाल उसे फारासखाना पुलिस स्टेशन में रखा गया है और पुलिस कमिश्नर अमिताभ गुप्ता खुद उससे पूछताछ करने पहुंचे हैं। दरअसल गोसावी के खिलाफ धोखाधड़ी के 5 मामले दर्ज हैं। हालांकि, उसकी गिरफ्तारी पुणे में 2018 में दर्ज एक मामले में हुई है। इसमें चिन्मय देशमुख नाम के एक युवक ने किरण के खिलाफ मलेशिया में नौकरी दिलाने के नाम पर 3 लाख रुपए ठगने का आरोप लगाया था।

इस फोटो में गोसावी NCB अधिकारी समीर वानखेड़े के ठीक पीछे खड़ा नजर आ रहा है। यह फोटो क्रूज पर रेड वाले दिन यानी 2 अक्टूबर की बताई जा रही है।

पैसे मांगने पर जान से मारने की दी थी धमकी
चिन्मय देशमुख ने आरोप लगाया है कि मलेशिया में कुछ दिन रहने के बाद वह किसी तरह वापस पुणे लौटने में कामयाब रहा था, लेकिन वापसी के बाद जब उसने गोसावी से पैसे मांगे तो उसे जान से मारने की धमकी दी गई थी। इसके बाद चिन्मय ने किरण के खिलाफ केस दर्ज करवाया, लेकिन तब से ही गोसावी फरार चल रहा था। अब वह शाहरुख खान के बेटे आर्यन के साथ सेल्फी लेकर पुलिस की नजर में आया था।

गोसावी की ये तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हुई है।

क्रूज ड्रग्स केस में अहम गवाह है गोसावी
जिस क्रूज से शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को पकड़ा गया था उसका मुख्य गवाह गोसावी ही है। उसकी आर्यन के साथ एक सेल्फी भी वायरल हुई थी, जिसके बाद महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने गोसावी के NCB अधिकारी समीर वानखेड़े का करीबी होने का आरोप लगाया था। क्रूज पर रेड के बाद हुई मीटिंग की तस्वीरों में भी गोसावी वानखेड़े के पास खड़ा नजर आ रहा था।

पेशे से प्राइवेट डिटेक्टिव गोसावी को लेकर उसके बॉडीगार्ड रहे प्रभाकर साइल ने भी पिछले दिनों एक बड़ा दावा किया है। साइल का कहना है कि गोसावी ने आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ रुपये की मांग की थी। इसमें से 8 करोड़ का हिस्सा NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े का भी है। हालांकि, वानखेड़े ने इन दावों को खारिज किया था। इसके बावजूद अब NCB की पांच सदस्यीय टीम मुंबई में जांच कर रही है। ये टीम आज प्रभाकर से भी पूछताछ करेगी।

क्रूज पर कार्रवाई के बाद गोसावी की ये तस्वीर भी सामने आई थी, जिसमें वह आर्यन को घसीट कर NCB ऑफिस ले जाते हुए दिख रहा है।

गोसावी ने गिरफ्तारी से पहले जारी किया वीडियो
गिरफ्तारी से पहले किरण गोसावी ने एक वीडियो रिलीज किया है। इसमें वह दावा कर रहा है, ‘प्रभाकर साइल झूठ बोल रहा है। मैं बस इतना अनुरोध करना चाहता हूं कि उनकी (प्रभाकर) और उनके भाइयों की सीडीआर रिपोर्ट जारी की जानी चाहिए। मेरी सीडीआर रिपोर्ट या चैट जारी की जा सकती है, प्रभाकर साइल और उनके भाई की सीडीआर रिपोर्ट और उसकी चैट से सब कुछ साफ हो जाएगा।’

गोसावी आगे कहता है कि कम से कम एक मंत्री या महाराष्ट्र से विपक्ष का कोई भी नेता मेरे साथ खड़ा होना चाहिए। कम से कम उन्हें मुंबई पुलिस से अनुरोध करना चाहिए कि मैं क्या मांग कर रहा हूं। इससे पहले गोसावी ने कहा था कि महाराष्ट्र पुलिस कहानियां गढ़ रही है। वह NCB की जांच प्रभावित करना चाहते हैं। आर्यन की गिरफ्तारी के बाद मुझे फोन पर धमकाया जा रहा है।

 

Source link

.