पटना के परसा बाजार में पुलिस ने हथियार के साथ पकड़ा, अपराधियों को पकड़ने के लिए घेराबंदी शुरू

0
98
.

राजधानी पटना के फुलवारी प्रखंड अंतर्गत कई जगहों पर आगामी 15 नवंबर को पंचायत चुनाव के लिए वोट डाला जाना है। मतदान को ध्यान में रखते हुए प्रशासन स्वच्छ एवं निष्पक्ष मतदान के लिए अपनी तैयारियों में जुट गई है। इसी बीच गुरुवार देर शाम हथियार के बल पर वोटरों को धमका मुखिया के पक्ष में मतदान करने के आरोप में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार अपराधी पूर्व के कई मामलों में वांछित है। दरअसल, परसा बाजार थाना के मुकीमपुर निवासी संतोष कुमार अपने कुछ साथियों के साथ हथियार के बल पर गांव में लोगों को एक पक्ष के प्रत्याशी के लिए मतदान करने का धमकी दे रहा था।

ग्रामीणों ने बताया कि संतोष कुमार अपने कुछ दोस्तों के साथ हथियार दिखाकर लोगों को डरा धमका रहा था। साथ ही मुखिया के पक्ष में मतदान करने का दबाव डाल रहा था। स्थानीय लोगों ने इस बात की सूचना परसा बाजार थाने को दी। सूचना मिलते हैं परसा बाजार के पुलिस दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और अपराधी को पकड़ने के लिए घेराबंदी शुरू कर दिया।

इस बीच पुलिस की भनक लगते हैं कुछ अपराधी वहां से भाग निकले। जबकि पुलिस ने एक अपराधी को खदेड़ कर गिरफ्तार कर लिया।

बताते चलें कि अभी कुछ दिन पूर्व परसा बाजार के मुकीमपुर गांव से ही पुलिस ने कई लोगों को हथियार के साथ गिरफ्तार किया था। ग्रामीणों का यह कहना है कि आगामी 15 नवंबर को होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर अपराधी बराबर मतदाताओं को प्रभावित करने का प्रयास कर रहे हैं।

वहीं, इस मामले को लेकर परसा बाजार थाना प्रभारी संजय प्रसाद ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि वोटरों को एक प्रत्याशी के पक्ष में मतदान देने पर दबाव डाला जा रहा था। इसकी सूचना पर वे पीहू पुर गांव पहुंचे जहां से संतोष कुमार नाम के एक अपराधी को हत्या के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है । थाना प्रभारी ने बताया कि संतोष के पास से एक हथियार बरामद किया गया है।

Source link

.