पाकिस्तान में 7 नवजात को जन्म देने वाली मां के 6 बच्चों की मौत, डॉक्टर बोले- प्रीमैच्योर डिलिवरी की वजह से गई जान

0
198
.

पाकिस्तान में पिछले हफ्ते 7 बच्चों को जन्म देने वाली मां के 6 बच्चों की मौत हो गई है। एक बच्चा ही बचा है, जिसकी हालत भी कुछ ठीक नहीं है। इस महिला ने एबटाबाद के जिन्ना इंटरनेशनल हॉस्पिटल   में इन बच्चों के जन्म दिया था। जन्म के बाद से ही डॉक्टर इन्हें बचाने के जद्दोजहद में लगे थे। हालांकि, उन्हें कामयाबी नहीं मिली।

छठवें बच्चे ने आज दम तोड़ा
इन बच्चों को जन्म के बाद अयूब टेक्निकल हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया था। इसकी वजह यह थी कि ज्यादातर बच्चों की हालत प्रीमैच्योर डिलिवरी की वजह से नाजुक थी। अयूब हॉस्पिटल में जिन्ना हॉस्पिटल की तुलना में ज्यादा बेहतर सुविधाएं मौजूद हैं। तमाम कोशिशों के बावजूद छठवें बच्चे ने मंगलवार दोपहर दम तोड़ दिया।

‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, JIHA में इन बच्चों का जन्म हुआ, लेकिन पैरेंट्स की कहने पर इन्हें एक प्राइवेट हॉस्पिटल में शिफ्ट करा दिया गया था। पांच बच्चों ने उसी प्राइवेट हॉस्पिटल में दम तोड़ा। इसके बाद बच्चों को अयूब हॉस्पिटल लाया गया। यहां मंगलवार को छठवें बच्चे ने इलाज के दौरान आखिरी सांस ली।

सातवें बच्चे का इलाज जारी
अयूब हॉस्पिटल के इंचार्ज डॉक्टर एजाज हुसैन ने कहा- 6 बच्चों की मौत हो चुकी है। हम सातवें बच्चे को बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं, उसकी हालत भी फिलहाल खतरे से बाहर नहीं है। कुछ सीवियर कॉम्पलीकेशन्स हैं। अकसर प्रीमैच्योर डिलिवरी में इस तरह की दिक्कतें आती हैं। हमारी पूरी कोशिश है कि इस आखिरी बच्चे को हम बचा सकें। बाकी सब ऊपर वाले के हाथ में है।

वजन भी कम
डॉक्टर एजाज के मुताबिक, सातों बच्चे प्रीमैच्योर थे और यही वजह है कि उनको दिक्कतें बहुत ज्यादा थीं। सभी का वजन करीब एक किलोग्राम था। जन्म के बाद से ही इनमें कई तरह की दिक्कतें देखने मिल रही थीं। पिछले हफ्ते ज्यादातर बच्चों की मौत हुई।

पहले बच्चे (लड़के) की मौत तो जन्म के ठीक दूसरे दिन हो गई थी। बाद में तीन लड़कियों और उनकी मां की हालत में सुधार देखा गया था। हालांकि, बाद में बेटियों की हालत बिगड़ती गई। हॉस्पिटल की एक डॉक्टर का कहना है कि अल्ट्रासाउंड में पांच बच्चों के होने की बात सामने आई थी।

 

Source link

.