सुल्तानपुर :- 15 फिट का हुआ गड्ढ़ा, लखनऊ की ओर से आ रही कार फंसी 

0
65
15 feet pit
.

15 feet pit बल्दीराय/सुल्तानपुर :- पिछले वर्ष 22 हजार करोड़ रुपये से बने 340 किमी लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे हुए भ्रष्टाचार की पोल खुल रही है। बुधवार को 12 घंटे से अधिक हुई बारिश के बाद गुरुवार रात सुल्तानपुर के हलियापुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर सड़क बैठ गई,15 फिट के गड्ढ़े हो गए। यही नहीं इस गड्ढ़े में लखनऊ की ओर जा रही कार घुस गई। कार सवार लोग बाल-बाल बच गए हैं। वहीं कई अन्य गाड़ियां भी क्षतिग्रस्त हुई हैं।

पहले भी हो चुके है हादसे

जानकारी के अनुसार पूर्वांचल एक्सप्रेस पर ये मामला किमी 83 पर हलियापुर थाना क्षेत्र में हुआ है। कई एक को मामूली चोटें भी आई हैं। सूचना पर यूपीडा टीम और पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे। उन्होंने राहत बचाव कार्य शुरू कराया है। बताया जा रहा है कि एक्सप्रेस वे पर आ रही गाड़ियों का डायवर्जन भी किया गया है। वैसे 11 माह पूर्व बनकर तैयार हुए इस एक्सप्रेस वे पर सड़क बैठने का ये पहला मामला नहीं है। मई 2021 में भी तीन दिनों तक हुई बरसात में कुवांसी-हलियापुर के बीच एक्सप्रेस वे के अंडर पास की बीम दरक गई। अंडरपास की रेलिंग व फुटपाथ की मिट्टी बह गई। सड़क में दरार आ गई है।

15 feet pit निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर उठा सवाल

इन सब के चलते कार्यदाई संस्था यूपीडा के अधिकारी सकते में हैं। वहीं स्थानीय लोग निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठा रहे। लोगों ने आशंका जताई है कि हड़बड़ी में कार्य कराए जाने के चलते बारिश में इस तरह का बुरा हाल हुआ है। स्थानीय लोगों के अनुसार जहां मिट्टी की पटाई हुई है उसमें ज्यादा से ज्यादा पानी डालकर छोड़ना चाहिए था, उसके बाद रोलर चलाकर और मिट्टी डालकर पटाई करनी चाहिए थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

प्रधानमंत्री ने किया उद्घाटन

बताते चले कि 16 नवंबर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कूरेभार के अरवल कीरी स्थित एयर स्ट्रिप से पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का लोकार्पण किया था। इस प्रोजेक्ट से जनपद लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, अयोध्या, सल्तानपुर, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ तथा गाजीपुर जिले काफी लाभान्वित हो रहे हैं। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर कुल छह टोल प्लाजा,18 फ्लाईओवर,सात रेलवे ओवर ब्रिज, साथ बड़े सेतु,118 छोटे सेतु,13 इंटरचेंज, पांच रैम्प प्लाजा,271 अंडरपास तथा 503 पुलियों का निर्माण हुआ है। एक्सप्रेसवे पर आपातकालीन स्थिति में भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों के लैंडिंग व टेक ऑफ के लिए जनपद सुल्तानपुर में 3.2 किलोमीटर लंबी हवाई पट्टी का निर्माण भी हुआ है।

.