टेक्सस को सबसे पहले लॉकडाउन हटाना पड़ा महंगा

0
45
.

वाशिंगटनअमेरिका के टेक्सस में कोरोना संक्रमण हद से ज़ादा बढ़ता जा रहा है। टेक्सस में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,504 नए मामले सामने आए हैं। टेक्सस में कोरोना संक्रमण का ग्राफ हर दिन बढ़ता जा रहा है हालांकि वहीं हार्वर्ड ग्लोबल हेल्थ इनिशिएटिव के प्रमुख आशीष झा ने अमरीकी टीवी चैनल CNN में कहा है कि अमेरिका में मामले अभी से घटना शुरू हो जाए तो सितंबर तक 2 लाख लोगों की मौत हो चुकी होगी।



टेक्सस अमरीका के वो शहरों में से है जहां लॉकडाउन सबसे पहले 1 मई को कुछ नियमों के साथ खोल दिया गया था। जैसे कि दुकान-बाज़ार, रेस्त्रां और थियेटर खोल दिए गए थे। हालांकि बाद में बार, एक्वारियम, बिंगो हॉल भी खोल दिए गए। आपको बता दें कि आबादी के मामलों में टेक्सस अमरीका का दूसरा सबसे बड़ा शहर है जहां कोरोना संक्रमित की संख्या बहुत तेज़ी से बङ़ी है इससे पहले 31 मई को टेक्सस में कोरोना के 1,949 मामले सामने आए थे। अब यह साफ़ ज़ाहिर होता है कि क्लब, मार्केट मॉल और अन्य सार्वजनिक स्थलों को जल्दबाज़ी में खोलने पर टेक्सस को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।


ये भी पढ़ें: जिसे हुआ जुखाम उसे नहीं होगा कोरोना, वैज्ञानिकों ने किया दावा

वहीं एक्सपर्ट का कहना है कि अमेरिका में अभी से कोरोन संक्रमण के मामलें कम होने शुरु हो जाते है तो भी 2 लाख से अधिक लोगों की मौतें हो सकती हैं हार्वर्ड ग्लोबल हेल्थ इनिशिएटिव प्रमुख आशीष झा का कहना है कि यह महामारी सितंबर तक नहीं खत्म होने वाली है जब तक वैक्सीन नहीं बन जाती है तब तक मौतों का सिलसिला  यूहीं जारी रहेगा वहींजॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के डैशबोर्ड का यह कहना है कि अमेरिका में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 20 लाख से अधिक हो चुकी है जबकि अब तक वहां एक 1 लाख 13 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here