भारत मारेगा चीन को कारोबारी चोट, यूपी पुलिस ने मोबाइल से ‘Remove China apps’ का दिया आदेश

0
97
remove-china
.

लखनऊ। पिछले कई दिनों से भारत और चीन की सेनाओं के बीच तनातनी का महौल बना हुआ है। जिसके बाद दोनों देशों की सेनाओं के बीच हिंसक झड़प भी हुई जिसमें भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए। भारत और चीन की सीमा पर बढ़ते विवाद के बाद आज यूपी पुलिस ने एक अच्छा कदम उठाया है। बतादें कि आईजी एसटीएफ  अमिताभ यश ने मोबाइल से चाइनीज ऐप हटाने का आदेश दिया। अब मोबाइल में टिकटॉक, यूसी ब्राउजर जैसे चीनी ऐप को डिलीट किया जाएगा। गूगल प्ले स्टोर में ‘रिमूव चाइना ऐप’ को कुछ ही हफ्तों में 50 लाख से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका था। इस ऐप के जरिए से यूजर्स आसानी से चीन की मोबाइल ऐप्स का पता लगा सकते थे। आपको बतादें कि अब चीन के बहिष्कार की तैयारी लोगों ने कर ली है। और इस पर काम भी शुरु हो गया है।

भारत-चीन सीमा पर विवाद बढ़ने के बाद से ही भारत के सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर चीनी ऐप्स को हटाने की अपील की जा रही थी। यूपी एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश के मुताबिक मोबाइल से 52 चीनी ऐप हटाने का आदेश दिया गया है। उन्होंने जानकारी दी कि टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, हेलो समेत 52 ऐप को तत्काल हटाए क्योंकि इन ऐप से व्यक्तिगत और अन्य डाटा चोरी होने का डर बना रहता है।

यूपी में मात्र 2500 में करा सकेंगे प्राइवेट लैब में कोरोना टेस्ट

चीनी उत्पादों के बहिष्कार के अभियान में बॉलीवुड और खेल जगत के प्रमुख व्यक्तियों के जुड़ने से इसे और भी ज्यादा मजबूती मिलेगी। भारतीय ग्राहकों की पसंद को प्रभावित कर देश के खुदरा बाजार पर ज्यादा से ज्यादा नियंत्रण प्राप्त करने के उद्देश्य और सोची-समझी रणनीति के अंतर्गत चीन की कंपनियों ने अपने प्रोडक्ट्स का विज्ञापन करने के लिए भारतीय हस्तियों द्वारा उनका प्रचार-प्रसार करने का षड्यंत्र रचा है, जिसको समझना बेहद जरूरी है।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here