उत्तर प्रदेश देगा सवा करोड़ रोजगार, 26 जून से शुरु हो रहा अभियान

0
82
yogi-adityanath-770x433_1
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण के दौर में लोगों को रोजगार से जोड़ने का महाभियान की शुरुआत कर रही है। 26 जून से शुरू होने वाले इस अभियान के तहत सवा करोड़ लोगों को रोजगार से जोड़ने का प्रयास किया गया है। संबंधित विभागों को कुछ लक्ष्य दिए गए हैं। आपको बता दें कि अकेले मनरेगा से ही 60 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी पांच लाख दीदियां भी इस अभियान का हिस्सा बनेंगी।

कांग्रेस: डीएम साहब ट्वीट पर कम, कोरोना पीडितों की चिकित्सा पर ज्यादा ध्यान दें

MSME से करीब 50 लाख लोगों को रोजगार से जोड़ने का पूरा प्रयास है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत इस लक्ष्य को पाने के लिए CM योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सभी संबंधित विभाग तैयारी में लगे हुए हैं। अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास विभाग मनोज कुमार सिंह ने बुधवार को इस संबंध में मनरेगा और एसआरएलएम के अधिकारियों के साथ बैठक की है। अपर मुख्य सचिव ने जानकारी दी कि मनरेगा के तहत 26 जून को 60 लाख लोगों को रोजगार से जोड़ने का काम किया जा रहा है। इसमें कृषि विभाग का सहयोग भी लिया है।

CM योगी ने की उच्चस्तरीय बैठक, कोविड 19 को लेकर किए कई बड़े ऐलान

बुधवार को मनरेगा के तहत राज्य में 47.85 लाख श्रमिक काम पर लगे थे यानी 60 लाख के लक्ष्य के पाने के लिए करीब 12 लाख श्रमिकों को रोजगार से जोड़ने की बड़ी चुनौती विभाग के सामने है। मौजूदा स्थिति में उद्योग, कारोबार, बाजार आदि खुलने से काफी राहत है। तमाम लोग जो मजबूरी में मनरेगा का काम कर रहे थे वो अब अपने काम की तरफ वापसी करने लगे हैं। ग्राम्य विकास विभाग ने इस लक्ष्य को पाने के लिए जिलों को लक्ष्य दिए हैं। मिशन ने जो तैयारी की है उसके मुताबिक इस दिन तक पांच लाख से अधिक महिलाएं स्वरोजगार से जुड़ेंगी।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here