आयुष मंत्रालय की अनुमति के बिना नहीं बिक सकेगा बाबा रामदेव का कोरोना फॉर्मूला

0
15
ramdev

नई दिल्ली पूरी दुनिया में फैल चुकी कोरोना महामारी को खत्म करने के लिए लगातार दवाइयां बनाईं जा रहीं हैं। इसी बीच बाबा रामदेव ने भी कल कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को ठीक करने के लिए 3 दवाएं लॉन्च की थीं। साथ ही उन्होंने दावा किया था इस दवा के सेवन से 100 फीसदी मरीज ठीक हो जाएगा।

दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शामिल हिंदुजा ब्रदर्स में एक पत्र को लेकर बवाल

योग गुरु बाबा रामदेव ने दावा किया है कि उनकी बनाई हुई दवा कोरोनिल कोरोना वायरस का इलाज करने में कारगर है। उनके इस दावे पर आयुष मंत्री श्रीपद नाईक ने कहा कि यह अच्छी बात है कि बाबा रामदेव ने देश को एक नई दवा दी है, लेकिन उन्होंने नियमों का पालन नहीं किया लेकिन अब नियम के अनुसार, इस दवाई को सबसे पहले आयुष मंत्रालय में आना होगा। उन्होंने आगे कहा कि हमे रिपोर्ट भेजी गई है पहले हम इसे देखेंगे और रिपोर्ट देखने के बाद ही दवा को अनुमति मिलेगी।

कोरोना के चलते TMC विधायक तमोनाश घोष का 60 वर्ष की उम्र में निधन

उन्होंने कहा कि बाबा रामदेव को अपनी दवा की घोषणा बिना किसी मंत्रालय से अनुमति लिए मीडिया में नहीं करनी चाहिए थी। उनकी कहना है कि हमने उनसे जवाब मांगा है और पूरे मामले को टॉस्क फोर्स को भेजा है। आयुष मंत्री ने आगे कहा कि इस मामले में बाबा रामदेव से जो जवाब तलब किया गया था। इसपर नाईक ने कहा कि ये हमारी आपत्ति है कि दवा को पहले आयुष मंत्रालय नहीं लाया गया। आपको बता दें कि आयुष मंत्रालय भी अपनी दवा पर काम कर रहा है। जुलाई तक वो भी अपनी दवा लॉन्च कर दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here