मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बैठक में किसानों के लिए हुए ऐलान

0
50
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज हुई बैठक में कोरोना संक्रमितों की टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के लिए निरन्तर प्रयास करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक सैम्पल की टेस्टिंग के लिए यह आवश्यक है कि सभी टेस्टिंग लैब्स अपनी पूरी क्षमता से कार्य करें। उन्होंने टेस्टिंग लैब्स के सभी मेडिकल उपकरणों को क्रियाशील रखने तथा प्रयोगशाओं में पर्याप्त मानव संसाधन की उपलब्धता बनाए रखने के निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री ने जनपद गौतमबुद्ध नगर तथा गाजियाबाद सहित सम्पूर्ण मेरठ मण्डल में विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सम्बन्धित जिलों में कारगर रणनीति लागू करते हुए संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने तथा उपचार व्यवस्था को बेहतर बनाने के प्रभावी प्रयास सुनिश्चित किए जाएं।

एक्ट्रेस रिया सेन का छलका दर्द कहा, 16 की उम्र में जो हुआ उसने बदल दिया सब कुछ!

सीएम योगी ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग को प्रत्येक दशा में लागू किया जाए। पी.ए.सी. सहित सभी सुरक्षा बल की बैरकों में सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया जाए। सघन एवं नियमित पेट्रोलिंग करते हुए इस पर विशेष ध्यान दें कि और ये सुनिश्चित करें कि कहीं भीड़ एकत्र न होने पाए। उन्होंने कहा कि कन्टेनमेंट जोन में पूरी सख्ती बरतते हुए यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कन्टेनमेंट जोन में लोगों को आवश्यक सामग्री की उपलब्धता में कोई दिक्कत न हो।
सीएम ने सभी जनपदों में कम से कम एक क्वारंटीन सेन्टर तथा एक कम्युनिटी किचन को सक्रिय रखे जाने के निर्देश भी दिए। साथ ही खरीफ फसल के लिए किसानों को सभी कृषि निवेशों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस बात पर विशेष ध्यान रखा जाए कि किसानों को खाद, बीज तथा कृषि रक्षा रसायनों के सम्बन्ध में कोई असुविधा न हो। नहरों का संचालन रोस्टर के अनुरूप कराया जाए। सभी सरकारी नलकूपों को क्रियाशील रखा जाए।

फर्जी शिक्षिकाओं का खेल चौपट, अब प्राइमरी से लेकर यूनिवर्सिटी टीचर्स तक का अंगूठा लगाना अनिवार्य

मुख्यमंत्री ने निर्देशित करते हुए कहा कि गौ-आश्रय स्थलों में संरक्षित गौवंश के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारियों द्वारा गौवंश के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिया जाए। खुरपका-मुंहपका के टीकाकरण के लिए पशुपालकों को जागरूक किया जाए।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here