नेपोटिज्म के खिलाफ मोर्चे में शामिल हुईं सोफिया हयात, कहा- मेकर्स चाहते थे शारीरिक सौदा 

0
47
.

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद एक-एक कर के फिल्म स्टार्स बाहर निकल कर आ रहे हैं औऱ बॉलीवुड की गंदी सच्चाई पर से पर्दा उठा रहे हैं। सुशांत की मौत ने हर किसी को हैरान कर दिया है। इतनी कम उम्र में वो अलविदा कह जाएंगे ये किसी ने सोचा भी नहीं था। सुशांत की मौत को किसी ने डिप्रेशन से जोड़ा तो किसी ने उनको नेपोटिज्म का शिकार माना। इसी बीच अब बिग बॉस-7 की कंटेस्टेंट रही सोफिया हयात ने भी नेपोटिज्म को लेकर अपना एक एक्सपीरियंस शेयर किया है।

विश्वविद्यालयों की परीक्षा हो सकती है निरस्त, 2 जुलाई को होगा फैसला

एक इंटरव्यू के दौरान सोफिया ने बताया कि फिल्म इंडस्ट्री जितनी खूबसूरत दिखती है उतनी है नहीं। यहां पर नेपोटिस्म काफी लंबे समय से चलता आ रहा है। उन्होंने अपने साथ बीते एक किस्से में बताया कि विदेशी होने के नाते उन्होंने भी काफी परेशानी झेली है। उन्होंने कहा कि बॉलीवुड के कई बड़े मेकर्स ने मुझे काम करने के लिए इंवाइट किया था। फिल्म डायरी ऑफ अ बटरफ्लाई में मुझे कास्ट भी किया गया। जल्द ही कई बड़े फिल्ममेकर्स और एक्टर्स ने मुझ पर चांस मारने की कोशिश भी की। वो कहती हैं कि लोग मुझसे शारीरिक समझौता चाहते थे। मैंने कभी उन्हें खुद को हाथ तक लगाने नहीं दिया।

भारत बायोटेक ने विकसित की कोरोना वायरस की वैक्सीन, इंसानों पर ट्रायल के लिए मंजूरी

सोफिया ने बताया कि मेकर्स ने उनको एक नहीं कई बार खरीदने और बेचने की कोशिश की लेकिन वो सफल नहीं हो पाए। उनका काम दूसरी लड़कियों को दे दिया गया। फिल्मों से उनके सीन काटे गए यहां तक की उनकी फिल्में भी रोक दी गईं। इन सबके  बाद उन्होंने फिर अपने देश लौटने का फैसला किया।

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here