Asaduddin Owaisi Comment On PM Narendra Modi’s Address To Nation – PM Modi के संबोधन पर Owaisi की टिप्पणी- सभी त्योहारों के बीच बकरीद को कैसे भूल गए प्रधानमंत्री?

0
1014
.

  • असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा
  • ओवैसी ने कहा कि आज PM को चीन (भारत-चीन सीमा विवाद) पर बोलना था, वह चने पर बोल गए

नई दिल्ली। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। ओवैसी ने प्रधानमंत्री मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन पर आलोचनात्मक टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री को चीन (भारत—चीन सीमा विवाद) पर बोलना था, लकिन वह चने पर बोल गए। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शाम चार बजे राष्ट्र को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने पूरे देश में एक नवंबर तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मुफ्त राशन बांटने का ऐलान किया।

Unlock होने के बाद देश में बढ़ी लापरवाही…जानें PM Narendra Modi के संबोधन की 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन के बाद हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट करते हुए कहा कि आज उनको चीन पर बोलना था, बोल गए चना पर। ओवैसी ने आगे लिखा कि चना पर बोलना भी बेहद जरूरी था क्योंकि अचानक बिना किसी तैयारी के लॉकडाउन लागू करने से देख में लाखों लोगों की रोजी रोटी छिन गई है। यही नहीं ओवैसी यहां धार्मिक कार्ड खेलना भी नहीं भूले। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में आने वाले कई त्यौहारों के जिक्र किया, लेकिन वह बकरीद का याद रखना भूल गए। इसके बाद ओवैसी ने मोदी को ईद विश करते हुए लिखा कि चलिए, फिर भई आपको पेशगी ईद मुबारक।

पीएम मोदी से राहुल गांधी का शायराना सवाल – ‘तू इधर उधर की न बात कर, ये बता कि काफिला कैसे लुटा’

jkl.png

India ने China की PLA को दिया कड़ा संदेश- Chinese army ने नहीं किया समझोते का पालन

आपको बता दें कि इससे पहले एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शुक्रवार को सीमा पर चीन के साथ पैदा हुए संकट के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया था, जिसमें भारत ने अपने 20 जवानों को खो दिया। ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) को लद्दाख तनाव पर प्रधानमंत्री द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में आमंत्रित नहीं किया गया। इसके बाद ओवैसी ने प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखा था।









Source link

Authors

.