idols of God statue placing home rules ideal puja room vastu tips

0
73
.

अक्सर लोग अपने घरों में बिना सोच-समझे भगवान की मूर्ति कहीं भी स्थापित कर देते हैं. लेकिन बता दें कि हर चीज की तरह भगवान की मूर्तियों को भी रखने का अलग नियम होता है. वास्तु शास्त्र के मुताबिक इन नियमों का मानना बहुत जरूरी होता वरना पूजा फलदायी नहीं माना जाता है.

god

Indian God (Photo Credit: सांकेतिक चित्र)

नई दिल्ली:

अक्सर लोग अपने घरों में बिना सोच-समझे भगवान की मूर्ति कहीं भी स्थापित कर देते हैं. लेकिन बता दें कि हर चीज की तरह भगवान की मूर्तियों को भी रखने का अलग नियम होता है. वास्तु शास्त्र के मुताबिक इन नियमों का मानना बहुत जरूरी होता वरना पूजा फलदायी नहीं माना जाता है. जैसे की भगवान की मूर्ति या मंदिर हमेशा उत्तर या उत्तर पूर्व में ही रखना चाहिए. इस दिशा में मूर्ति रखना काफी शुभ माना जाता है.  वहीं गुरुओं की मूर्ति या तस्वीर को हमेशा पश्चिम दिशा में रखें. दक्षिण में इन्हें रखना अशुभ माना जाता है और ऐसा कभी नहीं करना चाहिए. 

और पढ़ें: Mithun Sankranti 2020: इस शुभ मुहूर्त पर करें पूजा , मिलेगा विशेष लाभ

वास्तु टिप्स-

घर में बहुत ज्यादा भगवान की मूर्तियां एक साथ नहीं रखनी चाहिए. ऐसे ही भगवान की बहुत सारी तस्वीरें भी घर पर एक साथ नहीं लगानी चाहिए क्योंकि इसे शुभ नहीं माना जाता है.

भगवान की मूर्ति के नीचे लाल रंग का कपड़ नहीं बिछाएं ये सही नहीं माना जाता है.. उत्तर या उत्तर पूर्व दिशा में रखी हुई मूर्तियों के नीचे नीले या हरे रंग का कपड़ा बिछाएं. अगर माला भी भगवान को पहनाएं तो लाल रंग की माला रखने से बचें.

अकेला शिवलिंग नहीं बल्कि शिव परिवार की मूर्ति होनी चाहिए. घर में हर तरह की सुख समृद्धि और शांति के लिए शिव परिवार की मूर्ति या तस्वीर ही सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है.

ये भी पढ़ें: आखिर क्या है शिव और भस्म से जुड़ा किस्सा, जानें महत्व

– भगवान को किसी भी रूप में घर में रखा जा सकता है. वो पत्थर की मूर्ति भी हो सकती है, धातु की मूर्ति भी हो सकती है, तस्वीर भी हो सकती है.

बेडरूम में किसी भी तरह भगवान की मूर्ति नहीं रखनी चाहिए. राधा-कृष्ण की झूला झूलती हुई तस्वीर बेडरूम में लगाई जा सकती है.


First Published : 16 Jun 2020, 04:53:25 PM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.