अंधविश्वास ने फिर ली एक महिला की जान युवक ने काटा चाची का गला सिर लेकर पहुंचा थाना Superstition took the life of a woman again the youth cut her aunt’s throat reached the police station with her head

0
62
.

नाम बुद्धिराम, काम बिल्कुल विपरीत. ओडिशा के 28 वर्षीय बुद्धिराम ने अंधविश्वास के चक्कर में आकर चाची का गला काट दिया. कटा गला लेकर पुलिस स्टेशन पहुंच गया.

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

भुवनेश्वर:

नाम बुद्धिराम, काम बिल्कुल विपरीत. ओडिशा के 28 वर्षीय बुद्धिराम ने अंधविश्वास के चक्कर में आकर चाची का गला काट दिया. कटा गला लेकर पुलिस स्टेशन (Police Station) पहुंच गया. वह आदिवासी बहुल जिले मयूरभंज का रहने वाला है. आज इस जगह फिर अंधविश्वास ने एक महिला (Women) की जान ले ली. युवक ने अपनी चाची का गला जादू-टोने के शक में गला काट दिया. दर्दनाक हत्या का यह मामला नौशी गांव का है. महिला का कटा हुआ सिर लेकर युवक खूंटा पुलिस स्टेशन पहुंच गया. मृतका की पहचान देमफार सिंह उर्फ चंपा सिंह के तौर पर हुई है.

यह भी पढ़ेें-अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील की बड़ी बहन की कोरोना से मौत

चार वर्षीय बेटी की एक रहस्यमय बीमारी के चलते मौत हो गई

मृत महिला भी आरोपी के गांव में ही रहती थी. आरोपी बुधिराम की चार वर्षीय बेटी की एक रहस्यमय बीमारी के चलते मौत हो गई थी. बुधिराम को शक था कि चंपा ने जादू-टोना किया जिसके चलते उसकी बेटी खत्म हो गई. चंपा से बदला लेने के लिए शख्स ने एक धारदार हथियार लेकर उसका गला काट दिया, जिसके चलते उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई. गला काटने के बाद शख्स पुलिस स्टेशन पहुंचा और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया. साथ ही जिस हथियार से उसने हत्या की थी, पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने शख्स को उस वक्त गिरफ्तार कर लिया. पुलिस घटना की जांच कर रही है.


First Published : 16 Jun 2020, 01:05:53 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.