दहेज में नहीं मिली लग्जरी कार तो घर के दरवाजे पर पहुंच कर पत्नी को दे दिया ‘Triple Talaq’ | kanpur – News in Hindi

0
81
.
दहेज में नहीं मिली लग्जरी कार तो घर के दरवाजे पर पहुंच कर पत्नी को दे दिया 'Triple Talaq'

कानपुर में दहेज़ की मांग न पूरी होने पर पति ने दिया ट्रिपल तलाक (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पीड़िता के मुताबिक 25 मार्च को उसके पति आसिफ (Asif) ने पांच लाख कैश की मांग की ताकि वह अपने कारोबार को आगे बढ़ा सके. साथ ही लग्जरी गाड़ी की भी मांग की और उसके साथ मारपीट की जिसके बाद वह मायके आ गई थी जहां पहुंच कर उसके पति ने उसे तीन तलाक दे दिया.

कानपुर. दहेज (Dowry) में लग्जरी कार (Luxury Car) और कैश (Cash) न मिलने के चलते एक पति ने मायके पहुंच कर पत्नी को तीन तलाक (Triple Talaq) दे दिया. शादी के बाद से ही पति द्वारा पत्नी को आए दिन दहेज़ के लिए मारा-पीटा जाता था. पीड़िता और उसके घर वालों का आरोप है कि उसे कई बार मारा-पीटा गया और दहेज़ ना लाने की दशा में तलाक और दूसरे निकाह की धमकी दी जाती थी. मार-पीट से तंग आकर पीड़िता मायके चली आई थी जहां उसके पति ने पहुंच कर उसे तीन तलाक दे दिया. पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.

दरवाजे पर खड़े हो कर बोला तलाक-तलाक-तलाक
बता दें कि चमनगंज इलाके के मोहम्मद अली पार्क निवासी रुखसार फातिमा को उसके शौहर ने दहेज में लग्जरी कार व 5 लाख रुपये नकद ना मिलने के कारण तीन तलाक दे दिया. जिसके बाद से वह सदमे में है. रुखसार के मुताबिक उसकी शादी उसके परिवार वालों ने धूम-धाम से पिछले साल 29 अक्टूबर को मोहम्मद आसिफ से उसका निकाह हुआ था. अपनी हैसियत से ज्यादा उसके पिता ने उसे दहेज दिया. लेकिन शादी के चंद रोज बाद से ही दहेज के लिए मारपीट करना गाली-गलौज करना आम हो चला था. उसने कई बार अपने परिवार वालों को भी अपनी आप-बीती बताई. मगर परिवार वालों ने उसे समझा-बुझा के दोबारा ससुराल भेज दिया. पीड़िता के मुताबिक 25 मार्च को उसके पति आसिफ ने पांच लाख कैश की मांग की ताकि वह अपने कारोबार को आगे बढ़ा सके और साथ ही लग्जरी गाड़ी की भी मांग की जिससे उसके व्यापार में और हाई सोसाइटी के बीच उसकी साख बनी रहे. रुखसार ने जब घर वालों से पैसे मांगने से इंकार किया तो आसिफ ने उसके साथ मारपीट की. जिससे उसे कई जगह चोटें आईं. रुखसार ने आरोप लगाया कि उसके शौहर आसिफ ने दहेज ना मिलने पर दूसरी शादी की धमकी दी जिसके बाद वह अपने मायके चली आई. 31 मई को उसका फोन आया लेकिन रुखसार ने फोन नहीं उठाया. जिसके बाद 27 जून को मायके में आकर दरवाजे पर खड़े हो कर उसे तीन तलाक दे दिया.

ये भी पढ़ें- जामताड़ा अस्पताल में वीडियो कॉल पर डायलिसिस कर रहा था कंपाउंडर, इंजेक्शन लगाते ही मरीज की मौत

इस मामले में जानकारी देते हुए सीओ त्रिपुरारी पांडे ने बताया कि रुखसार फातिमा नामक युवती ने चमन गंज थाने में दहेज़ की मांग और तीन तलाक के आरोप को लेकर तहरीर दी है जिसके आधार पर पुलिस ने पति समेत ससुराल के पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. मामले की जांच जारी है. सीओ चमनगंज के मुताबिक पीड़िता ने तहरीर में सास-ससुर, पति मोहम्मद आसिफ समेत पांच लोगों पर आरोप लगाया है. केस दर्ज होने के बाद आरोपी अपने परिवार के साथ फरार है.

First published: July 2, 2020, 9:38 PM IST



Source link

Authors

.