कोरोना से ठीक हुए मरीजों को घर वापसी के लिए नहीं मिलेगी एंबुलेंस

0
134
.

लखनऊ। कोरोना वायरस से पूरा देश इस समय जंग लड़ रहा है। सरकार लगातार इस महामारी की रोकथाम में लगी हुई है। कोरोना मरीजों को सही इलाज मिल सके इसके  लिए पूरे इंतजाम सरकार कर रही है। इसी बीच सरकार ने एक और फैसला लिया है कि अब अस्पतालों में भर्ती कोरोना वायरस से ठीक हो जाएंगे तो उन्हें सरकारी एंबुलेंस से घर नहीं छोड़ा जाएगा। सिर्फ कोरोना मरीज ही नहीं इसके साथ अन्य रोगियों को भी घर जाने के लिए एम्बुलेंस नहीं मिलेगी। यह फैसला प्रदेश सरकार ने किया है।

आपको बता दें कि इस सिलसिले में नेशनल हेल्थ मिशन के निदेशक विजय विश्वास पंत ने सभी सीएमओ को पत्र भेजा है। मिशन निदेशक के इस आदेश के बाद कोरोना वायरस से ठीक हो चुके मरीजों को अपने घर पहुंचने में काफी दिक्कत हो रही है। हर किसी के पास घर पंहुचने की सुविधा नहीं है।

LAC के साथ LoC पर बढ़ी निगरानी, नापाक पाक की हरकतों का जवाब देने को तैयार भारत

मिशन निदेशक ने आदेश दिए कि 108 औरमम अभी तक कोरोना के किसी भी मरीज और अन्य किसी रोगी को घर भेजने के लिए इस्तेमाल हो रही थीं, लेकिन अब एंबुलेंस की सुविधा किसी भी मरीज को घर पंहुचाने के लिए नहीं मिलेगी। विजय विश्वास पंत ने यह भी कहा है कि यदि किसी मरीज को एंबुलेंस से घर तक बहुत पहुंचाना जरूरी हुआ तो इसके लिए मिशन निदेशक या चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक से अनुमति लेनी होगी।

Authors

.