रॉड सो पीट-पीटकर साली को उतारा मौत के घाट, पत्नी की हालत गंभीर

0
87
.

लखनऊ। लॉकडाउन खुलते ही अपराध एकदम से बढ़ गए हैं और रुकने का नाम ही नहीं ले रहे  हैं। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से एक साली की निर्मम हत्या करने का मामला सामने आया है। लखनऊ के चौक थाना क्षेत्र में अपनी ससुराल में रह रहे एक युवक ने घरेलू झगड़े के चलते साली और पत्नी पर  लोहे की रॉड से गंभीर वार कर दिया। वार इतना तेज था कि सिर पर रॉड लगने से साली का सिर ही फट गया और खून से लथपथ घायल अवस्था में वहीं गिर पड़ी। इस दौरान उसे बचाने दौड़े पत्नी भी हमले में गंभीर रूप से घायल हो गई। घटना को अंजाम देकर आरोपी मौके से फरार हो गया। आनन फानन में घरवालों ने इस घटना की सूचना पुलिस को दी।

मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद हैं ये जड़ी-बूटियां, दूर करती हैं बेचैनी | health – News in Hindi

मौके पर पहुंची पुलिस ने गंभीर हालत में पत्नी को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, यहाँ उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। आपको बता दें कि आरोपी की साली के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस की टीमों ने आरोपी को गिरफ्तार कर  लियाहै। बता दें की मौैके पर पंहुची पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक हत्या के पीछे आरोपित की पैतृक जमीन की बिक्री का पैसा साले द्वारा हड़पने और बच्चे न होने पर पत्नी के तलाक के दबाव बनाने की बात सामने आई है।

दरअसल, चौपटिया निवासी इरफान का निकाह 12 साल पहले यहियागंज निवासी रऊफ की बेटी अजरीन से हुआ था। पिछले आठ साल से इरफान यहियागंज स्थित अपनी ससुराल में रह रहा है। बुधवार रात इरफान ने पत्नी अजरीन (40) और साली शामीम (32) पर लोहे की रॉड से हमला कर लहूलुहान कर दिया। जिसमें सिर पर गंभीर चोट आने से शामीम की मौत हो गई। वहीं, अजरीन के सिर में 25 टांके लगे।

shocking news five year old boy was driving suv on highway to try to by car

पुलिस के मुताबिक, निकाह के 12 साल गुजरने के बाद भी इनके बच्चे नहीं हुए थे। इसको लेकर ससुराल वासे तलाक का दबाव बना रहे थे।पिछले दिनों आरोपित के साले अयूब ने उसका पैतृक जमीन 18 लाख में बिकवा दी और पैसा हड़प लिया। इसको लेकर पिछले एक हफ्ते से घर में विवाद चल रहा था। बुधवार रात पत्नी व साली के घर में अकेले होने के दौरान तलाक को लेकर दोनों में विवाद शुरू हो गया। जिसके बाद आरोपित इरफान ने घटना को अंजाम दिया।

Authors

.