UP : पांव से टकराया ऑटो तो महिला ने चप्पल से कर दी चालक की सरेराह पिटाई, देखें Video | sitapur – News in Hindi

0
71
UP : पांव से टकराया ऑटो तो महिला ने चप्पल से कर दी चालक की सरेराह पिटाई, देखें Video

ऑटो चालक को चप्पल से पीटती महिला.

पिटाई के दौरान महिला उस ऑटो चालक को कोतवाली चलने की भी बात कर रही है. लेकिन लोगों ने ऑटो चालक को छुड़वा कर भगा दिया. यह पूरा मामला 20 से 25 मिनट तक चलता रहा.

सीतापुर. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सीतापुर में एक महिला ने ऑटो चालक (Auto Driver) की सरेराह चप्पल से पिटाई कर दी. इस पिटाई का वीडियो (Video) सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल (Viral) हो रहा है.

शहर कोतवाली से चंद कदम पहले हुआ मामला

बताया जा रहा है कि महिला जब शहर कोतवाली से चंद कदमों की दूरी पर थी, तभी पीछे से आ रहा ऑटो महिला के पांव टकरा गया. ऑटो चालक के द्वारा लापरवाही से ऑटो चलाए जाने पर महिला काफी आक्रोशित हो गई. उसने ऑटो चालक को उसकी ड्राइविंग सीट से खींच कर बाहर निकाला और चप्पल से उसकी पिटाई कर दी. वीडियो में दिख रहा है कि कथित चालक को एक शख्स ने पकड़ रखा है और महिला उसे चप्पल से पीट रही है. महिला द्वारा ऑटो चालक की पिटाई होते देख लोगों की भीड़ एकत्र हो गई. पिटाई के दौरान महिला उस ऑटो चालक को कोतवाली चलने की भी बात कर रही है. लेकिन लोगों ने ऑटो चालक को छुड़वा कर भगा दिया. यह पूरा मामला 20 से 25 मिनट तक चलता रहा. लेकिन इस दौरान पुलिस नदारद दिखी जबकि यह पूरा घटनाक्रम कोतवाली से महज चंद कदमों की दूरी का है.
नोएडा में कोरोना संदिग्ध मानकर युवती को बस से फेंका, मौत

उत्तर प्रदेश के नोएडा से एक आई एक खबर के मुताबिक, 19 साल की कोरोना संदिग्ध (Coronavirus) युवती को यूपी रोडवेज की बस से फेंकने के आरोप लगे हैं. आरोप है कि युवती को कोरोना की संदिग्ध होने के चलते बस से फेंक दिया गया और बाद में उसकी मौत हो गई. मौत का कारण हार्ट फेल्योर बताया जा रहा है.

गर्मी और सफोकेशन के चलते बेहोश हो गई थी युवती

जानकारी के अनुसार, 19 साल की युवती यूपी के नोएडा से सिकोहाबाद के लिए परिवार के साथ सफर कर रही थी. इस दौरान रोडवेज बस के स्टाफ के साथ झड़प हो गई. स्टाफ ने उसे कोरोना संदिग्ध होने के चलते बस से नीचे फेंक दिया. अधिकारियों और पुलिस के अनुसार, 19 साल की अंशिका की मौत कार्डियेक अरेस्ट से हुई है. वहीं, परिवार का कहना है कि वह गर्मी और सफोकेशन के चलते बेहोश हो गई थी. इस पर स्टाफ को लगा कि वह कोरोना संदिग्ध है. इसके बाद उसे मथुरा में टोल प्लाजा के पास बस से फेंक दिया. इस दौरान बस में सवार लोग तमाशबीन बने रहे.

First published: July 4, 2020, 8:22 PM IST



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here