Edible Oil News-Strict Action Will Be Taken On The Open Sale Of Edible Oil, Adulterants Will Be Banned-खाने के तेल की खुली बिक्री पर होगी कड़ी कार्रवाई, मिलावटखोरों पर लगेगी लगाम

0
88
.

राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने राज्य सरकारों से खाद्य तेल (Edible Oil Industry) की खुली बिक्री पर तत्काल रोक लगाने की अपील की.

IANS | Updated on: 03 Jul 2020, 02:32:23 PM

edible oil

खाद्य तेल (Edible Oil) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने खाने के तेल में मिलावट पर नकेल कसने के मकसद से शुक्रवार को राज्य सरकारों को खाद्य तेल (Edible Oil) की खुली बिक्री पर रोक लगाने का आग्रह किया है. केंद्रीय मंत्री ने एक ट्वीट के जरिए राज्य सरकारों से खाद्य तेल (Edible Oil Industry) की खुली बिक्री पर तत्काल रोक लगाने की अपील की. पासवान ने कहा कि नियमों के विरुद्ध खाद्य तेल की खुली बिक्री होने की लगातार शिकायतें मिल रही हैं, जिससे मिलावट का खतरा है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस से संकट में आई अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए उपाय सुझाएगी दिल्ली सरकार

खाद्य मंत्रालय ने राज्यों से मिलावट पर रोक लगाने के लिए सख्त कदम उठाने को कहा
इससे पहले मंत्रालय की ओर से राज्यों को लिखे पत्र में खाद्य तेल की खुली बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश दिए गए थे. खाद्य मंत्रालय ने राज्यों से मिलावट पर रोक लगाने के लिए सख्त कदम उठाने को कहा है. यह पत्र केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के तहत उपभोक्ता मामले विभाग में अपर सचिव निधि खरे की ओर से राज्यों के खाद्य सचिवों व प्रधान सचिवों को गुरुवार को लिखा गया। पत्र में कहा गया है कि विभाग को खाद्य तेल की खुली बिक्री होने की शिकायतें मिली हैं जिस पर रोक लगाई जाए.

यह भी पढ़ें: प्रवासी मजदूरों के सही आंकड़े उपलब्ध नहीं होने से सिर्फ 13 फीसदी बंट पाया अनाज

उपभोक्ता मामले विभाग ने कहा कि विधिक माप विज्ञान विभाग के नियंत्रकों को भी एडवायजरी जारी करके उनसे यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि विधिक माप विज्ञान कानून का पालन हो.


First Published : 03 Jul 2020, 02:29:48 PM

For all the Latest Business News, Commodity News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here