कानपुर एनकाउंटर मामलाः दो महिलाएं जो दुबे को दे रही थीं पुलिस की लोकेशन और चलवा रही थीं गोलियां | kanpur – News in Hindi

0
107
कानपुर एनकाउंटर मामलाः दो महिलाएं जो दुबे को दे रही थीं पुलिस की लोकेशन और चलवा रही थीं गोलियां

File pic.

पुलिस ने अब दो महिलाओं को गिरफ्तार किया है, जो दबिश देने गए पुलिसकर्मियों की लोकेशन छत पर से विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके गुर्गों को दे रही थीं और बता रही थीं कि किस तरफ गोली चलानी है.

नई दिल्ली. कानपुर शूटआउट (Kanpur Shootout) के दौरान 8 पुलिस वालों की हत्या का आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) बेशक अभी भी फरार है. लेकिन पुलिस ने विकास की करीबी दो महिलाओं को गिरफ्तार करने का दावा किया है. पुलिस (Police) का आरोप है कि इन महिलाओं की वजह से भी कई पुलिस वालों की उस रात जान गई थी. महिलाओं पर पुलिस की मुखबिरी का आरोप है. पुलिस का कहना है कि यह महिलाएं छत पर मौजूद बदमाशों को नीचे छिपे पुलिस वालों की लोकेशन बता रही थीं.

साथ ही कुछ पुलिस वालों ने गोलियों से बचने के लिए दरवाजा खोलने को कहा तो, दरवाजा खोलने के बजाए छत से बदमाशों को नीचे बुला लिया. महिलाओं संग संजय दुबे नाम के एक युवक को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है.

क्षमा दुबे ने नहीं खोला था दरवाजा
पुलिस ने क्षमा दुबे पत्नी संजय दुबे नाम की एक महिला को गिरफ्तार किया है. यह महिला रिश्ते में विकास दुबे की पुत्रवधु बताई जा रही है. विकास के मकान के बराबर में ही क्षमा दुबे का घर है. पुलिस का आरोप है कि उस रात जब गांव में पुलिस को घेरकर छतों पर से गोलियां चलाई जा रहीं थी तो कुछ पुलिस वाले आड़ लेकर बदमाशों का मुकाबला कर रहे थे. इसी दौरान बुरी तरह घिर चुके कुछ पुलिस वाले क्षमा दुबे के मकान का दरवाजा बजाने लगे.

वो घर के अंदर शरण लेना चाहते थे. लेकिन क्षमा दुबे ने दरवाजा खोलने के बजाए सीढ़ियों के रास्ते छत पर जाकर बदमाशों को नीचे पुलिस वालों के होने की जानकारी दे दी. जिसके बाद बदमाशों ने उन पुलिस वालों की हत्या कर दी.

नौकरानी रेखा चीख-चीखकर बता रही थी लोकेशन

पुलिस ने विकास दुबे की नौकरानी रेखा अग्निहोत्री को भी गिरफ्तार किया है. रेखा का पति दयाशंकर पहले ही पकड़ा जा चुका है. पुलिस का आरोप है कि जब बदमाश और पुलिस वालों के बीच गोलियां चल रही थीं, तो कुछ पुलिस वाले दीवार की आड़ लेकर बदमाशों का मुकाबला कर रहे थे.

तभी रेखा छत पर मौजूद बदमाशों को पुलिस वालों की लोकेशन बता रही थी. इस तरह कई पुलिस वालों को बदमाशों ने मार डाला. साथ ही चिल्ला रही थी कि कोई भी पुलिस वाला बचकर नहीं जाना चाहिए.

गांव के ही रहने वाले सुरेश वर्मा को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. सुरेश पर भी आरोप है कि वह चीख-चीखकर बदमाशों की हौसला अफजाई कर रहा था. डीजीपी यूपी को भेजे एक प्रेसनोट में पुलिस ने यह जानकारी दी है.

 

First published:
July 7, 2020, 4:47 PM IST

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here