बारिश के मौसम में न करें इन 5 फूड्स का सेवन, गंभीर रूप से हो सकते हैं बीमार | health – News in Hindi

0
247
.
बारिश के मौसम में न करें इन 5 फूड्स का सेवन, गंभीर रूप से हो सकते हैं बीमार

बारिश के मौसम में सबसे ज्यादा नुकसान खाने पीने की चीजों से पहुंचता है.

बारिश के मौसम (Rainy Season) में ज्यादातर लोग बीमार पड़ते है क्योंकि गर्मी का मौसम खत्म होने के बाद से तापमान (Temperature) नीचे जाता है और तरह-तरह की स्वास्थ्य समस्याएं शुरू हो जाती हैं.

बारिश के मौसम यानी मॉनसून (Monsoon) में सेहत का खास ख्याल रखना पड़ता है. इस मौसम में कई तरह की विशेष चीजों (Foods) को खाने से सेहत (Health) पर इसका बुरा असर पड़ सकता है. इस मौसम में कई प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन करने के दौरान विशेष सावधानी बरतनी पड़ती है. इसमें जरा-सी लापरवाही भी सेहत के लिए कई समस्याएं खड़ी कर देती है. बारिश के मौसम में ज्यादातर लोग बीमार पड़ते है क्योंकि गर्मी का मौसम खत्म होने के बाद से तापमान (Temperature) नीचे जाता है और तरह-तरह की स्वास्थ्य समस्याएं शुरू हो जाती हैं. बारिश के मौसम में सबसे ज्यादा नुकसान खाने पीने की चीजों से पहुंचता है और कई प्रकार के फूड्स का सेवन करना बीमारी की प्रमुख वजह भी बन जाता है. आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसे फूड्स के बीरे में जिनका सेवन बारिश के दौरान या फिर मॉनसून में नहीं करना चाहिए.

पालक
पालक का सेवन बारिश के मौसम में बिल्कुल नहीं करना चाहिए. दरअसल बारिश के मौसम में छोटे-छोटे कीटाणु, वायरस और बैक्टीरिया जो आंखों से दिखाई नहीं देते हैं वह पालक के पत्तों में चिपके रहते हैं. इन कीटाणुओं को भगाने के लिए हानिकारक कीटनाशक का भी प्रयोग किया जाता है, जो कि सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है.

​बैंगनबैंगन सावन के महीने में भगवान शिव को चढ़ाया जाता है. बारिश के मौसम में इसका सेवन करने से बचना चाहिए. दरअसल, बारिश के मौसम में बैंगन के अंदर छोटे-छोटे कीड़े पड़ना शुरू हो जाते हैं. यह कीड़े पेट दर्द और पेट से जुड़ी कई प्रकार की समस्याओं का प्रमुख कारण भी बन सकते हैं. यही वजह है कि मॉनसून में बैंगन का सेवन करने से बचना चाहिए.

​दूध
दूध सेहत को बेहतरीन फायदा पहुंचाता है और लोग कई प्रकार की गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं से भी बचे रहते हैं. बारिश के दिनों में दूध का सेवन न करने की सलाह देने के अलग-अलग कारण बताए जाते हैं. बारिश के मौसम में जानवरों को खिलाया जाने वाला हरा चारा बैक्टीरिया और कीटाणुओं का घर बन जाता है. यह दूध की अच्छी क्वालिटी को भी प्रभावित करता है. इस कारण बारिश के दिनों में दूध का सेवन करने से पहले इसे खूब अच्छी तरह उबालना चाहिए.

तले-भुने और स्ट्रीट फूड
तली भुनी हुई चीजों और खासकर स्ट्रीट फूड का सेवन बारिश के दिनों में नहीं करना चाहिए. इनसे भी संक्रमण का खतरा रहता है. स्ट्रीट फूड का सेवन करने के कारण लोग विभिन्न प्रकार की परेशानी से जूझ सकते हैं. अगर आप बारिश में पानीपुरी का सेवन करते हैं तो इसका दूषित पानी डायरिया या फिर लूज मोशन की समस्या खड़ी सकता है.

मांस और मछली
मांस और मछली मुख्य रूप से बारिश के दिनों में नहीं खाना चाहिए. सावन के महीने में खासकर इसका सेवन न करने की सलाह दी जाती है और इसका वैज्ञानिक कारण भी है. इस दौरान हवा में भी कई ऐसे हानिकारक बैक्टीरिया मौजूद रहते हैं जो मांस और मछलियों को दूषित कर देते हैं. इसके अलावा बारिश के दिनों में मछलियों के अंडे देने का वक्त होता है. अंडा एक विशेष प्रकार की फूड एलर्जी का भी गुण रखता है जो गले में इंफेक्शन हो सूजन का मुख्य कारण हो सकता है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

First published: July 7, 2020, 6:14 AM IST



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here