कोरोना: WHO की चेतावनी, अभी आऐगा कोरोना का सबसे बुरा दौर

0
71

नई दिल्ली।  कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में दहशत का माहौल बनाकर रखा है। हर रोज कोरोना मरीजों का बढ़ता आंकड़ा ये दर्शाता है कि कोरोना अपने चरम पर आने की पूरी तैयारी कर चुका है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने साफ तौर पर इस बात की चेतावनी दी है कि दुनिया भर में कोविड-19 संक्रमण का सबसे बुरा दौर आना अभी बाकी है। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक डॉ. तेद्रोस गेब्रियेसस ने कहा, “संक्रमण का प्रकोप तेज हो रहा है और हम स्पष्ट रूप से महामारी के चरम पर अभी नहीं पहुंचे हैं। वैश्विक स्तर पर मौतों की संख्या कम होती दिख रही है लेकिन वास्तव में कुछ ही देशों ने मरने वालों की संख्या कम करने में महत्वपूर्ण प्रगति की है जबकि अन्य देशों में मौतों का सिलसिला अभी चल रहा है।”

वर्क फ्रॉम होम से थक गई हैं आंखें, आराम के लिए अपनाएं ये 3 खास टिप्स | health – News in Hindi

WHO की नियमित होने वाली प्रेसवार्ता के दौरान डॉ. तेद्रोस ने कहा कि सप्ताहांत में दुनिया भर में संक्रमण के 4,00,000 से अधिक मामले सामने आए हैं। दुनियाभर में अब तक कोरोना के 1.14 करोड़ मामले सामने आए हैं और 5.35 लाख से ज्यादा लोगों की जान चली गई है।

उन्होंने कहा, “ हम कोरोना महामारी के शुरुआती दौर से लगातार कहते रहें हैं कि यह वायरस बहुत ज्यादा खतरनाक है। हमने संक्रमण के शुरुआती दिनों से ही इसे कई बार लोगों का सबसे बड़ा दुश्मन करार दिया है।  इसके दो खतरनाक संयोजन हैं, पहला कि यह बहुत तेजी से फैलने वाला वायरस है और दूसरा ये कि इस वायरस से मौत भी हो सकती है। इसीलिए हम चिंतत थे और लगातार दुनिया को चेतावनी दे रहे थे।

कानपुर कांड: सोची समझी साजिश के तहत हुआ पुलिस पर हमला, सच का खुलासा

डॉ. तेद्रोस ने कोरोना वायरस को ‘मानवता का दुश्मन’ करार देते हुए कहा है कि हमें एकजुट होकर खड़ा होना चाहिए। उनका कहना है कि एक सदी में एक बार ऐसा होता है। साल 1918 के बाद से इस तरह की कोई महामारी नहीं देखी गई है। WHO आपातकालीन स्वास्थय कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक डॉ. माइकल रयान ने चेतावनी दी है कि वैश्विक स्तर पर मौतों की संख्या एक बार फिर से बढ़ सकती है। डॉ. रयान ने कहा कि पिछले कुछ हफ्तों में संक्रमितों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी दर्ज की है। लेकिन मई के मध्य से ही स्तिथि थोड़ी स्थिर हुई है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here