Gold Smuggling-Why And Where Gold Smuggling Takes Place In India, Read Full News-भारत में क्यों और कहां से होती है सोने की तस्करी, पढ़ें पूरी खबर

0
76
.

Gold Smuggling: सर्राफा बाजार के जानकार बताते हैं कि भारत में सोने की तस्करी की मुख्य वजह ऊंचा आयात शुल्क है. इसके अलावा, विदेशों से आने वाले प्रीमियम क्वालिटी के सोने का रीसेल वैल्यू अच्छा होता है.

IANS | Updated on: 09 Jul 2020, 02:51:50 PM

Gold Smuggling

Gold Smuggling (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Gold Smuggling: केरल (Kerala) के त्रिवेंद्रम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर राजनयिक सामान से 30 किलो सोना (Gold) जब्त होने के बाद सोने की तस्करी का दायरा बढ़ने का संकेत मिलता है. कोरोना काल में सोने (Gold Price Today) के दाम में आई जोरदार तेजी से तस्करी को प्रोत्साहन मिला है क्योंकि तस्करों को इससे अच्छी कमाई हो जाती है. ऐसे में यह जानना लाजिमी है कि आखिर सोने की तस्करी की वजह क्या है. सर्राफा बाजार के जानकार बताते हैं कि भारत में सोने की तस्करी की मुख्य वजह ऊंचा आयात शुल्क है. इसके अलावा, विदेशों से आने वाले प्रीमियम क्वालिटी के सोने का रीसेल वैल्यू अच्छा होता है.

यह भी पढ़ें: India Global Week 2020: ग्लोबल इकोनॉमी के रिवाइवल में भारत की अहम भूमिका, नरेंद्र मोदी का बयान

दुबई से होती है सबसे ज्यादा तस्करी
विशेषज्ञ बताते हैं कि भारत में सोने की तस्करी सबसे ज्यादा दुबई से होती है और प्रीमियम क्वालिटी का सोना होने के कारण उसका रीसेल वैल्यू अच्छा होता है. जानकार बताते हैं कि विदेशों से सोने की तस्करी बड़े गिरोह करते हैं जो लालच देकर लोगों को फंसाते हैं और उनके सामान में छिपाकर सोना विदेशों से भारत भेजते हैं.

यह भी पढ़ें: भारती एक्सा लाइफ इंश्योरेंस के इस प्लान में लाइफ कवर के साथ मिलेंगे ये फायदे

सोने पर भारत में 12.5 फीसदी आयात शुल्क
इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन के नेशनल प्रेसीडेंट सुरेंद्र मेहता ने बताया कि आसानी से पैसे बनाने की लालच में लोग सोने की तस्करी करते हैं और इस काम में इंडस्ट्री के बाहर के लोग शामिल होते हैं. उन्होंने कहा कि सोने पर भारत में 12.5 फीसदी आयात शुल्क लगता है जोकि तस्करी की एक बड़ी वजह है। भारत में सोने पर तीन फीसदी जीएसटी भी लगता है. कारोबारी बताते हैं कि लॉकडाउन के दौरान अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें बंद होने से तस्करी बिल्कुल बंद हो गई थी.

यह भी पढ़ें: काम की खबर: प्रॉविडेंट फंड (EPF) से पैसे निकालने पर नहीं देना होगा कोई भी डॉक्यूमेंट, नौकरीपेशा लोगों को मिली बड़ी राहत 

केडिया एडवायजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने बताया कि दुबई से आने वाला सोना प्रीमियम क्वालिटी का होने के कारण उसकी मांग अच्छी होती है। वहीं, सोने का मूल्य ज्यादा होने से छोटे परिमाण से भी अच्छी कमाई हो जाती है, इसलिए सोने की तस्करी के प्रति तस्करों की दिलचस्पी ज्यादा होती है. हाल ही में त्रिवेंद्रम हवाई अड्डे पर राजनयिक सामान से 30 किलो सोना जब्त किया गया जिससे सोने की तस्करी में बड़े गिरोह के शामिल होने के संकेत मिलते हैं। तस्कर गिरोह की मुख्य संदिग्ध स्वप्ना के बारे में बताया जाता है वह प्रदेश की वाम लोकतांत्रिक मोर्चा की सरकार की करीबी है.


First Published : 09 Jul 2020, 02:51:50 PM

For all the Latest Business News, Gold-Silver News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here