विकास दुबे एनकाउंटर पर मायावती ने सुप्रीम कोर्ट से की निगरानी में निष्पक्ष जांच की मांग

0
83

लखनऊ। कानपुर हत्याकांड का मास्टरमाइंड और कुख्यात अपराधी विकास दुबे शुक्रवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से पकड़ा गया था। जिसके बाद मध्य प्रदेश पुलिस ने उसे यूपी एसटीएफ को सौंप दिया था। उज्जैन से कानपुर लाते समय पुलिस की गाड़ी पलटने के बाद विकास दुबे ने पुलिस से हथियार छीनने की मांग की। इसी दौरान पुलिस और विकास दुबे के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें विकास घायल हो गया जिसके बाद उसे हैलट अस्पताल ले जाया गया जाहां पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

इस एनकाउंटर पर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने सवाल उठाते हुए कहा कि दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है। उन्होंने यह बात ट्वीट करके कही। अखिलेश के अलावा मायावती प्रियंका गांधी, दिग्विजय एनकाउंटर को लेकर प्रतिक्रिया दी हैं।

राज से पर्दा न उठे इसीलिए किया विकास दुबे का फर्जी एनकाउंटर: अखिलेश यादव

बसपा सुप्रीमो मायावती ने विकास दुबे के एनकाउंटर को लेकर सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जांच की मांग की है।पुलिस और विकास दुबे की मौत पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा, ‘ कानपुर पुलिस हत्याकांड तथा साथ ही इसके मुख्य आरोपी दुर्दान्त विकास दुबे को मध्यप्रदेश से कानपुर लाते समय आज पुलिस की गाड़ी के पलटने व उसके भागने पर यूपी पुलिस द्वारा उसे मार गिराए जाने आदि के समस्त मामलों की माननीय सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में उच्च-स्तरीय जांच इसलिए भी जरूरी है ताकि कानपुर नरसंहार में शहीद हुए 8 पुलिसकर्मियों के परिवार को इंसाफ मिल सके। साथ ही, पुलिस व आपराधिक राजनीतिक तत्वों के गठजोड़ की भी सही शिनाख्त करके उन्हें भी सख्त सजा दिलाई जा सके। ऐसे कदमों से ही यूपी अपराध-मुक्त हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here