Union Bank Of India Cuts MCLR By 20 Basis Point, Home, Auto And Personal Loans Become Cheaper-यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के ग्राहकों के लिए बड़ी खुशखबरी, इतना सस्ता हो गया होम, ऑटो और पर्सनल लोन

0
84
.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank Of India-UBI) ने कहा है कि संशोधित एक वर्षीय एमसीएलआर 7.60 प्रतिशत की जगह 7.40 प्रतिशत होगी. बैंक ने तीन महीने और छह महीने के एमसीएलआर को घटाकर क्रमश: 7.10 फीसदी और 7.25 फीसदी कर दिया है.

Union bank of india ubi

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने (Union Bank of India-UBI) (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुंबई:

सार्वजनिक क्षेत्र के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने (Union Bank of India-UBI) शुक्रवार को विभिन्न अवधि के लिए सीमांत लागत धन-आधारित उधारी दर (MCLR) में 0.20 प्रतिशत कटौती करने की घोषणा की है. बैंक की नई दरें 11 जुलाई से लागू होंगी. यूनियन बैंक ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि संशोधित एक वर्षीय एमसीएलआर 7.60 प्रतिशत की जगह 7.40 प्रतिशत होगी. बैंक ने तीन महीने और छह महीने के एमसीएलआर को घटाकर क्रमश: 7.10 फीसदी और 7.25 फीसदी कर दिया है.

यह भी पढ़ें: रिलायंस इंडस्ट्रीज और BP जियो-बीपी ब्रांड के जरिए ईंधन की खुदरा बिक्री करेंगे 

यूनियन बैंक पिछले साल जुलाई से अबतक 13 बार घटा चुका है दरें
बता दें कि पिछले साल जुलाई से यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा लगातार 13 बार दर में कटौती की गई है. इससे पहले देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने शुक्रवार को छोटी अवधि के लिए एमसीएलआर में 0.05 से 0.10 प्रतिशत की कमी की थी. सार्वजनिक क्षेत्र के एक अन्य बैंक इंडियन ओवरसीज बैंक (आईओबी) ने सभी अवधि के लिए एमसीएलआर में 0.25 प्रतिशत तक कटौती की है. इस हफ्ते की शुरुआत में केनरा बैंक और बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने भी एमसीएलआर में कटौती की थी.

यह भी पढ़ें: आम आदमी को अभी और रुलाएगा महंगा टमाटर, जानिए कब तक मिलेगी राहत

SBI ने MCLR में 0.05 से लेकर 0.10 प्रतिशत तक कटौती की
बता दें कि देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (State Bank Of India) ने कम अवधि के कर्ज पर कोष की सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (MCLR) में 0.05 से लेकर 0.10 प्रतिशत तक कटौती कर दी है. यह कटौती आज यानि 10 जुलाई से लागू हो गई है. एसबीआई (SBI) के जारी वक्तव्य में कहा गया है कि एमसीएलआर में यह कटौती तीन माह तक के लिये दिये जाने वाले कर्ज पर लागू होगी. जानकारी के मुताबिक बैंक (Latest SBI News) के द्वारा ब्याज दरों में कटौती का मकसद कर्ज में उठाव और मांग को बढ़ावा देना है.

यह भी पढ़ें: Gold Price Today: सोने-चांदी में आज उठापटक की आशंका, जानिए दिग्गज जानकारों का नजरिया

एमसीएलआर में की गई इस कटौती के बाद तीन माह तक की अवधि के कर्ज पर एसबीआई की ब्याज दर घटकर 6.65 प्रतिशत वार्षिक रह जायेगी. यह दर एसबीआई की बाहरी बेंचमार्क आधारित ब्याज दर (ईबीएलआर) के बराबर हो गई है. स्टेट बैंक की एमसीएलआर दर में की गई यह लगातार 14वीं कटौती है. (इनपुट भाषा)


First Published : 10 Jul 2020, 12:36:17 PM

For all the Latest Business News, Banking News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here