राज ठाकरे: राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे ने सीएम को लिखा पत्र कहा, ‘स्कूल अभिभावकों को परेशान कर रहे हैं’ – amit thakrey wrote a letter to cm demanding action against schools

0
68
.

स्कूल के बच्चों और अभिभावकों(parents) के समर्थन में आये अमित ठाकरे (amit thackeray) ,सरकार के आदेश को नहीं मानने वाले स्कूलों के खिलाफ करवाई की मांग

Edited By Avinash Pandey | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

अमित ठाकरे (फाइल फोटो)अमित ठाकरे (फाइल फोटो)

अविनाश पाण्डेय, मुंबई

मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे ने उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर अभिभावकों को फीस के लिए परेशान करने वाले स्कूलों के खिलाफ सख्त कार्यवाई करने की मांग की है। अमित ने कहा की स्कूल जबरन माता पिता पर यह दबाव बना रहे हैं कि अगर फीस नहीं भरी तो नाम काट जायेगा।

बच्चों की फीस के मुद्दे पर मनसे आक्रामक

मनसे राज ठाकरे के बाद उनके पुत्र अमित ठाकरे में एक युवानेता का चेहरा ढूंढ रही है। जो पार्टी की गिरती साख को बचा सके और शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे को टक्कर दे सके। अमित ठाकरे भी अब धीरे धीरे सक्रीय राजनीती में उतर रहे हैं। हाल ही में वो जन समस्यायों को लेकर सूबे के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी से भी मिले थे मनसे के युवराज अब इस मुद्दे के जरिये लोगों के बीच अपनी पैठ बनाना चाहते हैं।



शिसवेना और एनसीपी के मनमुटाव पर मनसे का निशाना


मनसे के अस्तित्व की शुरुआत ही राज ठाकरे के शिवसेना से अलग होने हुई थी।इसलिए मनसे ने हर वो पैंतरा आजमाया जो कभी स्वर्गीय बालासाहेब ने आजमाकर सियासी बुलंदियों को हासिल किया था। शुरू से ही शिवसेना पर हमलावर रही है मनसे ने एक बार फिर एमवीए यानि महाविकास आघाड़ी में जारी खींचतान और मतभेद पर तंज कसा है। एमएनएस नेता संदीप देशपांडे ने ट्वीट कर कहा है कि रात के अंधेरे में पार्षदों को चुराकर सर्जिकल स्ट्राईक करने का दावा करने वाले आज दिन के उजाले में एनसीपी से भीख मांग रहे हैं।

NBT

अमित ठाकरे का पत्र

बीएमसी की पुरानी रंजिश पर मनसे ने साधा निशाना

दरअसल साल 2017 के अक्टूबर महीने में बीएमसी में अपनी संख्या बढ़ाने के लिए शिवसेना ने मनसे के 7 में से 6 पार्षदों को तोड़कर अपनी पार्टी में शामिल करवा लिया था। तब से ही मनसे शिवसेना से खफा है। सरकार में शामिल होने के बावजूद एनसीपी ने शिवसेना के पांच पार्षदों को तोड़कर अपनी पार्टी में शामिल करवाया वो भी अजीत पवार की मौजूदगी में इस बात शिवसेना काफी नाराज है। इसी बात को लेकर मनसे कहा कि सब समय समय की बात है।

शरद पवार ने उद्धव ठाकरे से मातोश्री में जाकर मुलाकत की

शिवसेना ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए एनसीपी के आलाकमान को यह कहा है की पार्षदों को वापस किया जाए। हाल ही में अहमदनगर के पारनेर में पांच शिवसेना पार्षद अजित पवार की मौजूदगी में एनसीपी में शामील हुए थे। उद्धव ठाकरे की नाराजगी को दूर करने के लिए शरद पवार खुद सीएम से मिलने उनके आवास पर गृहमंत्री अनिल देशमुख के साथ गए थे।

Web Title amit thakrey wrote a letter to cm demanding action against schools(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here