25 जुलाई को मनाई जाऐगी नाग पंचमी, नाग देवता को ऐसे करें प्रसन्न

0
127

नाग देवता की पूजा भारत में हजारों सालों पहले होती चली आ रही है। नाग पंचमी के दिन खास तौर से नाग देवता की पूजा की जाती है। कहते हैं नाग देवता के दर्शन बहुत शुभ माना जाते हैं। नाग पंचमी के दिन घर में गोबर से नाग बनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस पूजा को करने से धन-धान्य की प्राप्ति होती है और सर्पदंश का डर भी दूर होता है। भारतीय संस्कृति में नागों का बेहद ही अहम और बड़ा महत्व है। सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथी को नाग पंचमी के रूप में मनाया जाता है। इस बार नाग पंचमी 25 जुलाई को मनाई जाएगी ।

सीतापुर के छह गांवों में टिड्डी दल का हमला, अलर्ट मोड पर किसान और कृषि विभाग की टीम

ऐसे करें पूजा

नाग पंचमी के दिन प्राता जल्दी उठकर नहा धोकर पूजा करनी चाहिए। उसके बाद दीवार पर गेरू लगाकर पूजा का स्थान बनाया जाता है। साथ ही घर के प्रवेश द्वार पर नाग का चित्र भी बनाया जाता है। खुशबूदार फूल, कमल व चंदन से नागदेव की पूजा करने का खास महत्व है। इस दिन खीर भी बनाई जाती है। इस खीर को ब्राह्मणों को परोसा जाता है साथ ही सांप को भी दिया जाता है। प्रसाद के तौर पर खुद भी इस खीर को ग्रहण करते हैं।

विकास दुबे की गाड़ी पलटने की असली वजह का यूपी एसटीएफ ने किया खुलासा

इन चीजों का ध्यान रखें

इस बात का खास ध्यान रखें कि नाग पंचमी के दिन नागों को दूध नहीं पिलाया जाता है। इस दिन दूध से सांप का अभिषेक किया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि नाग को दूध पिलाने से उनकी मृत्यु हो जाती है। इसी के साथ ही इस दिन मिट्टी की खुदाई भी नहीं की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here