विकास दुबे की गाड़ी पलटने की असली वजह का यूपी एसटीएफ ने किया खुलासा

0
57

कानपुर। कानपुर में आठ पुलिसवालों की हत्या का जिम्मेदार विकास दुबे का शुक्रवार की सुबह एनकाउंटर हो गया। गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर में सरेंडर करने के बाद उसे कानपुर लाया जा रहा था। उसी दौरान जिस गाड़ी में विकास को लाया जा रहा था उसका एक्सीडेंट हो गया और मौके का फायदा उठाते हुए विकास ने वहां से फरार होने की कोशिश की जिसके बाद पुलिस ने विकास को रोकने की भी कोशिश की लेकिन वो नहीं माना और इसी दौरान उसने पुलिस पर फायरिंग कर दी। और आपको बता दें कि एक्सचेंज ऑफ फायर में विकास को मार गिराया गया। इस मुठभेड़ में 4 पुलिसकर्मी भी घायल हो गए।

सीतापुर के छह गांवों में टिड्डी दल का हमला, अलर्ट मोड पर किसान और कृषि विभाग की टीम

आपको बता दें कि यूपी एसटीएफ ने एक बयान जारी करते हुए बताया कि विकास दुबे की गाड़ी का एक्सीडेंट कैसे हुआ? एसटीएफ ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि हम उसे जिंदा पकड़ने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन बचाव में किए गए फायरिंग में वह मारा गया।

भारतीय सेना: पाक सीमा में घुसपैठ का इंतजार कर रहे 300 आतंकी

यूपी एसटीएफ जो प्रेस नोट जारी किया है उसमें कहा गया है कि कानपुर कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे को सरकारी वाहन से उज्जैन से कानपुर लाया जा रहा था। इसी दौरान कानपुर के सचेंडी थाना के पास एनएच पर अचानक गाय-भैंस का एक झुंड आ गया, जिसे बचाने के लिए ड्राइवर ने गाड़ी को मोड़ा लेकिन वह अनियंत्रित होकर पलट गई। इस दुर्घटना में चार पुलिसकर्मी घायल भी हो गए। इसी का फायदा उठाकर दुर्दांत अपराधी विकास दुबे एक पिस्टल छीनकर वहां से भागने लगा जिसके बाद उसका एनकाउंटर हो गया।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here