rajasthan political crisis: राजस्थान जैसे हालात नहीं, पांच साल चलेगी महाविकास आघाड़ी: अनिल देशमुख – mva will complete it’s tenure of five years

0
57

सचिन पायलट (sachin pilot) और अशोक गहलोत (ashok gehlot) की बीच लड़ाई में राजस्थान कांग्रेस (rajasthan congress) का हाल बुरा हो चुका है। यह आग (maharshtra) महाराष्ट्र तक नहीं पंहुचेगी इसका भरोसा गृहमंत्री अनिल देशमुख (home minister anil deshmukh) को है। देशमुख के मुताबिक गठबंधन(alliance) में कोई दिक्कत नहीं है।

Edited By Avinash Pandey | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

अनिल देशमुख गृहमंत्री महाराष्ट्रअनिल देशमुख गृहमंत्री महाराष्ट्र
हाइलाइट्स

  • महाराष्ट्र सरकार पांच साल पूरे करेगी
  • गठबंधन में कोई दिक्‍कत नहीं
  • तीनों दलों में बेहतर तालमेल
  • राजस्थान जैसे हालात मुंबई में नहीं

मुंबई

राजस्थान में मौजूदा सियासी हालातों को देखते हुए महाराष्ट्र के राजनीतिक हलकों में यह चर्चा शुरू हो चुकी है कि अगला नंबर महाराष्ट्र का हो सकता है। इस चर्चा के पीछे कई सारी वजहें भी है। हाल ही में जिस तरह से एमवीए यानी महाविकास आघाड़ी में एनसीपी और शिवसेना के बीच में मनमुटाव चल रहा था। उसके पहले कांग्रेस अपने आपको आघाड़ी सरकार में उपेक्षित महसूस कर रही थी और खुलकर उनके नेताओं ने इस बात को स्वीकारा था कि उन्हें गठबंधन में तरजीह नहीं दी जा रही है। हालांकि इन तमाम अटकलों पर विराम लगाते हुए राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि उनकी सरकार 100 प्रतिशत पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। 5 साल के बाद भी गठबंधन को किस प्रकार से आगे बढ़ाना है हम इस पर भी चर्चा करेंगे।

‘सचिन पायलट को पार्टी मनाए’

महाराष्ट्र के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व सांसद संजय निरुपम ने राजस्थान कांग्रेस के मौजूदा हालात पर दुख जताते हुए कहा है, ‘कांग्रेस पार्टी को सचिन पायलट को मनाना चाहिए। पार्टी को उन्हें से बाहर नहीं जाने देना चाहिए, क्योंकि अगर एक-एक करके सभी लोग यूं ही नाराज हो कर चले जाएंगे तो पार्टी में फिर कोई नहीं बचेगा। आलाकमान को राजस्थान के मसले में कोई हल जरूर निकालना चाहिए वरना यह पार्टी के लिए ही नुकसानदेह साबित होगा’।



अठावले ने दिया शरद पवार को निमंत्रण


आरपीआई के मुखिया और मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार को एनडीए में शामिल होने का निमंत्रण दिया। अठावले ने कहा, ‘शरद पवार एक वरिष्ठ नेता हैं। उनके पास अथाह ज्ञान है कृषि मंत्री रहते हुए उन्होंने कई अच्छे काम भी किए हैं। इसलिए उनके इस अनुभव को इस्तेमाल किया जाना चाहिए और मेरा ऐसा निजी मत है की शरद पवार जी को महाविकास आघाड़ी से नाता तोड़कर एनडीए से जुड़ जाना चाहिए ताकि उनके अनुभव का देश को फायदा हो सके’।

Web Title mva will complete it’s tenure of five years(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here