Roshni Nadar Malhotra Became The Chairman Of HCL Technologies of about 1.7 lakh crore-कभी न्यूज़ चैनल में किया था इंटर्नशिप, अब करीब 1.7 लाख करोड़ रुपये की कंपनी की चेयरमैन बनी ये लड़की

0
133
.

नई दिल्ली:

आईटी कंपनी एचसीएल टेक्नालॉजीज (HCL Technologies) ने जून 2020 तिमाही में समेकित शुद्ध लाभ 31.7 फीसदी बढ़कर 2,925 करोड़ रुपये दर्ज किया गया है. कंपनी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक शिव नाडर (Shiv Nadar) ने चेयरमैन पद की भूमिका से हट गए हैं. हालांकि शिव नाडर मैनेजिंग डायरेक्टर के पद पर बने रहेंगे. वहीं शिव नाडर की बेटी रोशनी नाडर मल्होत्रा (Roshni Nadar Malhotra) तत्काल प्रभाव से उनकी जगह ले लिया है. रोशनी करीब 1.7 लाख करोड़ रुपये के मार्केट कैपिटलाइजेशन (Market Capitalization) की कंपनी का कामकाज संभालेंगी. बता दें कि एचसीएल टेक्नालॉजीज ने शेयर बाजार को बताया कि कंपनी ने अप्रैल-जून 2019 की तिमाही में 2,220 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया था.

यह भी पढ़ें: शेयर बाजार में जोरदार तेजी, 548 प्वाइंट की मजबूती के साथ बंद हुआ सेंसेक्स, निफ्टी 10,900 के ऊपर

सीएनबीसी न्यूज़ चैनल में बतौर इंटर्न कर चुकी हैं काम
बता दें कि रोशनी नाडर मल्होत्रा, शिव नाडर और किरन नाडर की इकलौती संतान है. जानकारी के मुताबिक रोशनी की शुरुआती पढ़ाई दिल्ली में हुई है और शुरुआती पढ़ाई पूरी करने के बाद रोशनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए अमेरिका चली गईं. अमेरिका में नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी से पढ़ाई खत्म करने के बाद रोशनी सीएनबीसी न्यूज़ चैनल में बतौर इंटर्न भी काम कर चुकी हैं. इसके अलावा स्काई न्यूज़ के लंदन ऑफिस में भी उन्होंने कुछ दिन काम किया है.

यह भी पढ़ें: सब्जियों की महंगाई ने रसोई का बजट बिगाड़ा, 1 महीने में दोगुना हुआ दाम

महज 27 साल की उम्र में बनी थीं CEO
रोशनी ने 2009 में HCL का पद ज्वाइन किया था. उस समय उनकी उम्र महज 27 वर्ष थी. सिर्फ 1 साल के बाद ही कंपनी की ओर से पदोन्नति देते हुए एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर बना दिया गया. हालांकि रोशनी अभी तक कंपनी की चेयरमैन नहीं थीं लेकिन कोई भी महत्वपूर्ण फैसला उनकी सहमति के बगैर नहीं लिया जाता था.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार की इस योजना से 35 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार, लागत का 90 फीसदी तक मिलेगा लोन

HCL से जुड़े हैं रोशनी के पति
जानकारी के मुताबिक साल 2010 में रोशनी ने शिखर मल्होत्रा से शादी की थी. उस समय शिखर मल्होत्रा बतौर चेयरमैन एचसीएल हेल्थ केयर काम कर रहे थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एचसीएल फाउंडेशन के कामकाज में शिखर मल्होत्रा मौजूदा समय में रोशनी का सहयोग करते हैं. दोनों की खुशहाल जिंदगी में दो बच्चे हैं. प्रतिष्ठित फ़ोर्ब्स मैगजीन ने साल 2017, 2018 और 2019 में लगातार दुनिया की 100 ताकतवर महिलाओं की सूची में रोशनी को शामिल किया था. रोशनी को संगीत से काफी लगाव है और वह शास्त्रीय संगीत में भी पारंगत हैं. रोशनी आर्थिक रुप से कमजोर बच्चों के लिए विद्याज्ञान लीडरशिप एकेडमी चलाती हैं.

कंपनी की आय 8.6 प्रतिशत बढ़कर 17,841 करोड़ रुपये
समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की आय 8.6 प्रतिशत बढ़कर 17,841 करोड़ रुपये रही, जो इससे पिछले साल समान तिमाही में 16,425 करोड़ रुपये थी. हालांकि, मार्च 2020 तिमाही के मुकाबले आय में करीब चार प्रतिशत की कमी हुई है. एचसीएल टेक्नालॉजीज के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी सी विजयकुमार ने कहा कि इस तिमाही में प्रतिकूल परिस्थितियों का हमारी आय पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा, हालांकि परिचालन मॉडल के लचीलेपन के चलते मार्जिन और नकदी आवक को बनाए रखने में मदद मिली.

यह भी पढ़ें: मुकेश अंबानी के इस फैसले से वोडाफोन आइडिया को लग सकता है बड़ा झटका, जानें क्या है मामला

रोशनी नाडर मल्होत्रा की नियुक्ति आज से प्रभावी
उन्होंने कहा कि कंपनी के पास पर्याप्त सौदे हैं, और इस अवधि में उसे 11 बेहद महत्वपूर्ण सौदे मिले. कंपनी ने बताया कि निदेशक मंडल ने शिव नाडर के स्थान पर उनकी बेटी और कंपनी की गैर-कार्यकारी निदेशक रोशनी नाडर मल्होत्रा को बोर्ड और कंपनी का अध्यक्ष नियुक्त करने का फैसला किया है. उनकी नियुक्ति शुक्रवार से प्रभावी है. कंपनी ने बताया कि शिव नाडर ने पद से हटने की इच्छा व्यक्त की थी और वह मुख्य रणनीति अधिकारी के पदनाम के साथ कंपनी के एमडी बने रहेंगे.


Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here