छतीसगढ़: अवैध कटाई पर अपने सीनियर अफसरों पर भड़का वनरक्षक, बनाया पंचनामा – Forest officer lashes out on senior over illegal cutting of bamboo chhattisgarh

0
68
.
  • वनरक्षक ने अफसरों के खिलाफ दर्ज किया मामला
  • प्रतिबंधित क्षेत्र में बांस की कटाई पर जमकर लताड़ा

गुजरात पुलिस की महिला सिपाही सुनीता यादव का वीडियो तो आपको याद ही होगा जिसमें वो मंत्री के बेटे को कानून का पाठ पढ़ाते देखी जा रही थीं. अब एक ऐसा ही मामला छत्तीसगढ़ के कोरबा में सामने आया है, जहां एक बीट गार्ड (वनरक्षक) ने बांस की कटाई करवा रहे अपने सीनियर अफसरों को ना केवल जमकर लताड़ लगाई बल्कि उनके खिलाफ केस (पीओआर) भी दर्ज की है.

कोरबा के कटघोरा वन मंडल में बीट गार्ड शेखर सिंह रात्रे ने शुक्रवार को देखा कि प्रतिबंधित क्षेत्र में बांस की कटाई हो रही है. उन्होंने बांस काट रहे मजदूरों से जानकारी मांगी. मजदूरों ने बताया कि वनमण्डल के सीनियर अफसरों ने ही उन्हें कटाई के लिए बोला है.

जंगल में युवक को सेल्फी लेना पड़ा भारी, हाथियों ने कुचल कर मार डाला

इस पर बीट गार्ड शेखर ने कटाई को रुकवा दिया और जब्ती की कार्रवाई शुरू कर दी क्योंकि इस सीजन में बांस की कटाई प्रतिबंधित होती है. कटाई रुकने की जानकारी मिलते ही रेंजर मृत्युंजय शर्मा, परिक्षेत्र सहायक दर्री अजय कौशिक भी मौके पर पहुंच गए.

इसके बाद शेखर ने उनसे पूछा कि कटाई किसके आदेश से हो रही है जिसका संतोषजनक जवाब दोनों ही अधिकारी नहीं दे पाए. इसके बाद शेखर ने उनसे कटाई का आदेश मांगा तो उनके पास आदेश की कॉपी भी नहीं थी. इस पर बीट गार्ड शेखर भड़क गए और उन्होंने ओहदे में अपने से बड़े अधिकारियों को खरी-खोटी सुनाना शुरू कर दिया.

शेखर ने अपने सीनियर अफसरों को लताड़ते हुए कहा, ‘आप अफसर होंगे लेकिन ये मेरा फील्ड है और आपने बिना आदेश के बांस कटवाया है और आप अपराधी हैं. यहां एक पत्ता भी नहीं काट सकते. मैं धारा 26 के तहत कार्रवाई कर रहा हूं. आप होश में रहिए और दस्तखत करें. गलत काम करोगे मेरी फील्ड में आकर? आप रेंजर होंगे अपनी जगह पर, यहां फील्ड का मालिक मैं हुं. चालान काट रहा हूं. वर्दी उतार दूंगा खड़े खड़े. रिज़र्व फारेस्ट में क्या नियम होता है पता नहीं है? थ्री स्टार लगाए हुए हो’.

पशुपालकों से गोबर खरीदने वाला पहला राज्य बनेगा छतीसगढ़

जब बीट गार्ड अपने अफसरों को नियम का पाठ पढ़ा रहा था उस दौरान किसी ने इसका वीडियो भी बना लिया जो अब जमकर वायरल हो रहा है.

बीट गार्ड शेखर ने बताया कि इस सीजन में बांस कटाई या कूप कटाई नहीं होती. इसलिए यह गलत है. मौके से 11 टंगियां जब्त की गई हैं. यह कृत्य आरक्षित वन में हुआ है इसलिए धारा 26 लगाया है. ये दंड की धारा है जिसमें एक वर्ष कारावास या 15 हजार जुर्माना या दोनों का प्रावधान है जो जमानती है. जिन पर कार्रवाई हुई है उनमें रेंजर मृत्युंजय शर्मा, अजय कौशिक परिक्षेत्र सहायक दर्री, बीट गार्ड रामकुमार यादव और 11 मजदूर शामिल हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here