बीजेपी महाराष्ट्र में दूध की कीमत को लेकर आंदोलन करेगी

0
68
.
बीजेपी करेगी राज्यभर में आंदोलनबीजेपी करेगी राज्यभर में आंदोलन

मुंबई

ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों से दूध खरीदार 16 से 18 रुपये प्रति लीटर दूध खरीद रहे हैं, लेकिन उसका फायदा ग्राहकों को नहीं मिल रहा है, जबकि सरकार ने न्यूनतम मूल्य 25 रुपये प्रति लीटर तय किया है।

सरकार के आदेश का पालन नहीं होने से किसानों की हालत बेहद खराब होती जा रही है। इस समस्या के समाधान के लिए मंगलवार को सरकार दूध उत्पादक और विक्रेताओं के संगठनों के साथ बैठक करने जा रही है, लेकिन उससे पहले भाजपा ने आंदोलन की चेतावनी दी है। सोमवार को वे राज्यभर में आंदोलन कर जिला अधिकारी व तहसीलदार को ज्ञापन देंगे।

दूध किसानों की समस्याएं हल करने के लिए दुग्ध विकास मंत्री सुनील केदार ने कई सारी घोषणाएं की थी। दूध का पावडर बनाने में रियायत देने से लेकर किसानों से खरीदी जा रही कीमतों की कीमतों के बाबत खूद घोषणाओं की अंबार लगा दी थी, लेकिन अब वे फोन तक नहीं उठाते। जब किसानों ने आंदोलन की चेतावनी दी, तब उन्होंने मंगलवार को बैठक का निर्णय लिया।

“राज्य सरकार किसानों से 25 रुपये प्रति लीटर की दर से दूध खरीदी 31 जुलाई तक जारी रख रही है, ताकि उन्हें लॉकडाउन में राहत मिल सके। इस संबंध में केंद्र से भी मदद मांगी थी, लेकिन नहीं मिली। वित्तीय बोझ के बावजूद, सरकार हर दिन किसानों से लगभग 10 लाख लीटर दूध खरीद रही है।”–सुनील केदार, पशुपालन और डेयरी विकास मंत्री

किसान नेता अनिल ढवले के मुताबिक सरकार द्वारा तय रेट भी किसानों को नहीं मिल रहा है। अगर सरकार ने मदद नहीं की, दूध उत्पादक किसान नहीं बचेगा। इसे लेकर भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष व राज्य के पूर्व कृषि मंत्री डॉ़ अनिल बोंडे ने 1 अगस्त को आंदोलन की बात कही थी। जब भाजपा को भनक लगी कि सरकार इसी मंगलवार को दूध उत्पादक संगठनों के साथ बैठक कर रही है, तो रविवार को विरोधी पक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटील के नेतृत्व में बैठक कर आंदोलन की तारीख 1 अगस्त से बदलकर 20 जुलाई कर दी गई।

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here