अविनाश पांडे बोले- फैसला स्पीकर के पक्ष में आए, तब भी पायलट गुट की बात सुनने को तैयार – Congress avinash pandey rajasthan high court sachin pilot mla

0
79
.
  • राजस्थान में सियासी लड़ाई जारी
  • बागी विधायकों की बात सुनने को तैयार कांग्रेस

राजस्थान में सियासी दंगल जारी है और हाईकोर्ट में सुनवाई भी हो रही है. इस बीच राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडे की ओर से एक बार फिर सचिन पायलट गुट को पार्टी में वापस आने का न्योता दिया गया है. अविनाश पांडे का कहना है कि अगर विधायकों की कोई शिकायत है, तो पार्टी सुनने के लिए तैयार है.

अविनाश पांडे ने इंडिया टुडे से कहा कि अगर कोर्ट का फैसला स्पीकर के पक्ष में आता है, तो भी वो विधायकों की बात सुनने को तैयार हैं. विधायकों के पास 21 तारीख तक का वक्त है, जब उन्हें स्पीकर के सामने अपना पक्ष रखना है.

भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार को गिराने की साजिश रच रही है, लेकिन ये सफल नहीं होगा. कांग्रेस नेता ने दावा किया कि अशोक गहलोत सरकार के पास बहुमत है और पूरे पांच साल तक सरकार चलेगी.

अशोक गहलोत या सचिन पायलट, विधानसभा में किसका पलड़ा भारी? जानें पूरा नंबर गेम

अविनाश पांडे की ओर से लगातार सोशल मीडिया हो या फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस, सचिन पायलट से वापस आने की अपील की जा रही है. हालांकि, सचिन पायलट गुट के कुछ विधायकों ने उनपर सोशल मीडिया के जरिए ही निशाना भी साधा है. बता दें कि केंद्रीय आलाकमान के निर्देश पर अविनाश पांडे, अजय माकन और रणदीप सुरजेवाला लंबे वक्त से राजस्थान में ही हैं.

गौरतलब है कि कांग्रेस की ओर से अबतक कई बार सचिन पायलट से संपर्क करने की कोशिश की गई है, साथ ही उन्हें कांग्रेस विधायक दल की बैठक में बुलावा दिया गया है. हालांकि, सचिन पायलट गुट की ओर से कोई सकारात्मक रवैया नहीं अपनाया गया है.

एक तरफ कांग्रेस पायलट गुट को मनाने की कोशिश में जुटी है, दूसरी ओर स्पीकर के नोटिस के खिलाफ सचिन पायलट गुट ने याचिका दायर कर दी है. जिसपर सुनवाई हो रही है. स्पीकर की ओर से पार्टी की विधायक दल की बैठक में शामिल ना होने का कारण पूछा गया था, जिसकी शिकायत कांग्रेस ने की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here