Mumbai Political News: कोरोना के बीच राम मंदिर के भूमि पूजन पर सियासत तेज, शिवसेना बोली- उद्धव को बुलाओ – clash between bjp and opposition over bhoomi poojan of ram mandir in ayodhya

0
86
.

5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन में शामिल हो सकते हैं। वहीं इस कार्यक्रम को लेकर शरद पवार ने सवाल खड़े किए हैं। हालांकि, यह बात अलग है कि शिवसेना ने इस कार्यक्रम में उद्धव को बुलाने की मांग की है।

Edited By Himanshu Tiwari | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

भूमि पूजन पर शुरू हुआ विवादभूमि पूजन पर शुरू हुआ विवाद

मुंबई/अयोध्या

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir in Ayodhya) के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi Ayodhya) भी शामिल हो सकते हैं। इस पर जब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के प्रमुख शरद पवार ने सवाल उठाए तो भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने भी पलटवार किया। उधर, शिवसेना की ओर से इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को भी बुलाने की मांग की गई है।

शिवसेना की इस मांग के साथ ही लोगों ने भी सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं। लोगों का कहना है कि शिवसेना को भी महाराष्ट्र की स्थिति देखकर तमाम बातें करनी चाहिए।

पढ़ें: शरद पवार बोले- मंदिर पूजन नहीं, इस पर पर ध्‍यान दें मोदी

‘इस बात को अगर कुछ लोग नहीं समझते तो…’

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी कहते हैं, ‘मशहूर जिनके दम से है दुनिया में नाम-ए-हिंद, है राम के वजूद पे हिंदोस्तां को नाज, अहले नजर समझते हैं उनको इमाम-ए-हिंद। अल्लामा इकबाल ने कहा कि पूरी दुनिया को अगर हिंदुस्तान पर नाज है तो वह मर्यादा पुरुषोत्तम राम की वजह से है। इस बात को अगर कुछ लोग नहीं समझते तो ये उनकी अपनी समस्या है। हिंदुस्तान का हर व्यक्ति चाहता था कि राम मंदिर का निर्माण राम जन्मभूमि पर होना चाहिए। यह हो रहा है। यह शुभ संकेत है।’

​कब तक बन जाएगा राम मंदिर

  • ​कब तक बन जाएगा राम मंदिर

    सुप्रीम कोर्ट की ओर से मंदिर के पक्ष में फैसला आने के बाद से ही मंदिर निर्माण की कवायद शुरू हो गई है। कोर्ट के ही आदेश पर मंदिर निर्माण के लिए रामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट का गठन किया गया। ट्रस्ट के लोगों का कहना है कि मंदिर के नक्शे पर अंतिम मुहर लगने के तीन से साढ़े तीन साल के अंदर मंदिर निर्माण का काम पूरा हो जाएगा।

  • ​भूमि पूजन में आएंगे मोदी?

    अयोध्या में बीते 18 जुलाई को राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्यों की बैठक में मंदिर के भूमि पूजन की तारीख तय कर दी गई। ट्रस्ट की ओर से 3 और 5 अगस्त का प्रस्ताव रखा गया था। इनमें से 5 अगस्त की तारीख को पीएमओ की मंजूरी मिली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंदिर के भूमिपूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी भूमि पूजन के दौरान मौजूद रहेंगे।

  • ​कैसा होगा मंदिर?

    राम मंदिर पर फैसला आने के बाद से सबसे ज्यादा चर्चा मंदिर के स्वरूप को लेकर है। आखिर मंदिर कैसा होगा? यह सवाल हर किसी के जेहन में है। मंदिर को लेकर अब तक विश्व हिंदू परिषद का मॉडल हमारे सामने था लेकिन अब इसमें बदलाव किए जाने की तैयारी है। मंदिर के इस मॉडल के शिल्पकार चंद्रकांत सोमपुरा हैं। मंदिर को और भव्य बनाने की तैयारी है।

  • ​कितनी मंजिल का मंदिर?

    राम मंदिर के पुराने मॉडल से नया मॉडल अलग है। नए वाले मॉडल में राम मंदिर की ऊंचाई, चौड़ाई और लंबाई तीनों ही बढ़ा दी गई हैं। मंदिर अब दो मंजिल की जगह तीन मंजिल का होगा। दरअसल, मंदिर की ऊंचाई में 33 फीट की वृद्धि की जा रही है। इस वजह से एक और मंजिल बढ़ाई जा रही है।

  • ​क्या होगी मंदिर की ऊंचाई?

    मंदिर के पुराने मॉडल के हिसाब से मंदिर की लंबाई 268 फीट 5 इंच थी। इसे बढ़ाकर 280-300 फीट किया जा सकता है। इसके अलावा मंदिर की चौड़ाई को भी बढ़ाकर 272-280 फीट के आसपास किया जा सकता है। यह चौड़ाई पहले 140 फीट प्रस्तावित थी। मंदिर की ऊंचाई को भी 128 फीट से बढ़ाकर 161 फीट किया जा सकता है।

  • ​मंदिर में कितने गुंबद?

    राम मंदिर के पहले वाले मॉडल में तीन गुंबद प्रस्तावित थे। बताया जा रहा है कि तीन मंजिला मंदिर में अब 5 गुंबद रहेंगे।

  • ​कितने स्तंभ?

    राम मंदिर के नए मॉडल के मुताबिक, पूरे मंदिर में कुल 318 स्तंभ होंगे। मंदिर के प्रत्येक तल पर 106 स्तंभ बनाए जाएंगे।

  • ​कौन है मंदिर का शिल्पकार?

    राम मंदिर के वीएचपी मॉडल को वास्तुकार चंद्रकांत सोमपुरा ने तैयार किया था। नए मॉडल पर भी वही काम कर रहे हैं। इसके अलावा उनके बेटे निखिल और आशीष सोमपुरा भी इस पर काम करेंगे। 18 जुलाई की ट्रस्ट की मीटिंग में दोनों को भी बुलाया गया था। निखिल और आशीष इंजीनियर हैं और दोनों ही मंदिर के नक्शे में किए गए बदलाव पर काम करेंगे।

  • ​कितना होगी लागत

    मंदिर के शिल्पकार सोमपुरा के मुताबिक, मौजूदा डिजाइन के हिसाब से मंदिर निर्माण में कम से कम 100 करोड़ रुपये की लागत आ सकती। यह खर्च बढ़ भी सकता है। निर्धारित समय सीमा के भीतर निर्माण पर ज्यादा संसाधन और बजट की जरूरत पड़ सकती है।

  • सबसे ऊंचे शिखर वाला मंदिर?

    राम मंदिर के नए मॉडल में उसकी ऊंचाई बढ़ाई गई है लेकिन फिर भी यह भारत में सबसे ऊंचे शिखर वाला मंदिर नहीं होगा। हिमाचल के सोलन में भारत का सबसे ऊंचा मंदिर है। यह मंदिर 39 साल में बनकर तैयार हुआ था।

शिवसेना विधायक ने लिखा पत्र

शिवसेना के विधायक प्रताप सरनाइक ने सोमवार को मांग की कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन कार्यक्रम में पार्टी अध्यक्ष और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 अगस्त को आयोजित होने वाले कार्यक्रम में भाग ले सकते हैं। सरइनाइक ठाणे में ओवला-माजीवाड़ा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने इस संबंध में श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र के मुख्य ट्रस्टी को एक पत्र लिखा है।

पढ़ें: UP में होम आइसोलेशन की आई गाइडलाइन



‘दूर की रास्ते की रुकावटें’

इससे पहले दिन में शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया और रास्ते की मुख्य रुकावटों को राजनीति के लिए नहीं बल्कि आस्था और हिंदुत्व के लिए दूर किया। सरनाइक ने पत्र में कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण अयोध्या में समारोह में कुछ लोगों को ही आमंत्रित किया जाएगा। समझा जाता है कि उन संगठनों और राजनीतिक दलों को समारोह के लिए आमंत्रित किया जा सकता है जिन्होंने प्रत्यक्ष रूप से या परोक्ष रूप से (मंदिर निर्माण के लिए) प्रयास किए हैं। उनके पत्र की प्रति मीडिया को उपलब्ध कराई गई है।

‘मंदिर निर्माण की रखी थी नींव’

सरनाइक ने कहा कि शिवसेना संस्थापक दिवंगत बाल ठाकरे मंदिर निर्माण आंदोलन में आगे-आगे थे। विधायक ने कहा कि उद्धव ठाकरे बार-बार राम मंदिर निर्माण की मांग करते रहे हैं, जब किसी अन्य नेता ने इस मुद्दे को नहीं उठाया था। उन्होंने दावा किया कि शिवसेना ने ही मंदिर निर्माण की नींव रखी थी।

अयोध्या: 5 अगस्त को राम मंदिर की नींव रखेंगे मोदीअयोध्या: 5 अगस्त को राम मंदिर की नींव रखेंगे मोदी

Web Title clash between bjp and opposition over bhoomi poojan of ram mandir in ayodhya(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here