कोरोना के इलाज के नाम पर परिचित ने डीयू प्रोफेसर से की धोखाधड़ी ऐंठ लिए 27 हजार Acquaintance cheated DU professor in the name of Corona treatmen took 27 thousand

0
79
.

दिल्ली विश्वविद्यालय के महाराजा अग्रसेन कॉलेज में गेस्ट प्रोफेसर डॉ. अवधेश कुमार के साथ धोखाधड़ी हुई है. जवाहरलाल नेहरू विवि (JNU) से जुड़े एक परिचित ने धोखाधड़ी की है. पीड़ित ने बताया कि उससे कोरोना के इलाज के नाम पर रुपये मांगा गया.

ejaj

एजाज वानी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कोरोना के कहर से हर कोई परेशान है. इस संकट की घड़ी में हर कोई एक-दूसरे की मदद कर रहा है. कोई आर्थिक तो कोई शारीरिक. कोरोना काल में हर कोई त्रस्त है. किसी को प्लाज्मा की जरूरत है तो किसी को ब्लड की. वहीं किसी के पास इलाज कराने के लिए पैसे नहीं है. जिसको जहां मौका मिल रहा है, मदद कर रहा है. वहीं दूसरी तरफ कई लोगों ने इस संकट को अवसर में बदलने का भरपूर प्रयास किया है. एक ऐसा ही मामला दिल्ली से आया है. एक परिचित ने ही कोरोना के इलाज के नाम पर हजारों रुपये ऐंठ लिया. दिल्ली विश्वविद्यालय के महाराजा अग्रसेन कॉलेज में गेस्ट प्रोफेसर डॉ. अवधेश कुमार के साथ धोखाधड़ी हुई है.

यह भी पढ़ें- नाबालिग बेटी के साथ सालों से रेप कर रहा था बुजुर्ग मदरसा टीचर, प्रेगनेंट होने पर 2 महीने पहले हुआ था अबॉर्शन

दिल्ली के किशनगढ़ थाने में मामला दर्ज कराया

जवाहरलाल नेहरू विवि (JNU) से जुड़े एक परिचित ने धोखाधड़ी की है. पीड़ित ने बताया कि उससे कोरोना के इलाज के नाम पर रुपये मांगा गया. उसे बताया गया कि रुपये की सख्त जरूरत है. पीड़ित इंसानियत के नाते मदद को तैयार हो गया. लेकिन परिचित एजाज वानी ने उसके साथ 27 हजार रुपये की धोखाधड़ी कर दी. मामला 18 जुलाई का है. पीड़ित ने आरोपी के खिलाफ दिल्ली के किशनगढ़ थाने में मामला दर्ज कराया है. पीड़ित ने बताया कि एज़ाज ने उसे 17 जुलाई को रात 10 बजे के बाद कॉल किया. उसने कहा कि उसका एक मित्र निजी अस्पताल में जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा है. उसको तत्काल कुछ पैसे की जरूरत है.

यह भी पढ़ें- ड्रग्स के लिए नहीं मिला पैसा तो बेटा ने चाकू से 15 वार कर मां को उतारा मौत के घाट 

पेटीएम कर लिया हैक

साथ ही उसने कहा कि वह अवधेश के अकाउंट में 60 हजार रुपये डलवा रहा है. इस राशि को एक अन्य मोबाइल नंबर के जरिए मित्र को भेजना है. एजाज फोन पर ही था और इसी बीच एक टेक्सट मैसेज आया. खाते में 60 हजार रुपए आ गये. एजाज ने अवधेश से मैसेज देखकर कंफर्म करने को कहा. अवधेश ने 25 हजार रुपये एक अन्य खाते पर ट्रांसफर कर दिया. और रुपये मांगा तो उसने मना कर दिया. फिर जिद्द करने पर उसने अपना पेटीएम का पासवर्ड दे दिया. बाद में आरोपी ने अवधेश के खाते से 27 हजार रुपये की ठगी कर ली. साथ ही उसके पासवर्ड को रिसेट भी कर दिया. पीड़ित ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है. पुलिस का कहना है कि जांच के बाद उचित कार्रवाई करेंगे. 


First Published : 21 Jul 2020, 06:14:29 PM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here