यूपी में सरकार नाम की कोई व्यवस्था नहीं, योगी राज में बढ़ रहा भ्रष्टाचार: अखिलेश यादव

0
83
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर हमेशा से ही सवाल खड़े करने वाली समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर यूपी सरकार को निकम्मा घोषित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा की कमियां गिनवाते हुए कहा कि लगता नहीं है कि उत्तर प्रदेश में सरकार नाम की कोई संस्था भी है।  उनका कहना है कि सर्वजन विरोधी भाजपा सरकार में न तो किसान, न दलित, न सवर्ण, न पिछड़े, न अल्पसंख्यक, न नौजवान, न पत्रकार सुरक्षित हैं। अखिलेश यादव के मुताबिक योगीराज में अगर कोई सुरक्षित है तो वो हैं सत्ताधीश औऱ विशेष वर्ग जिसे न कानून की परवाह है और नहीं लोकलाज की। उत्तर प्रदेश में अत्याचार, भ्रष्टाचार और अनाचार पर कहीं कोई नियंत्रण नहीं है।

लखनऊ में लोकभवन के सामने आत्मदाह का प्रयास करने वाली महिला की मौत, 4 लोग गिरफ्तार

अखिलेश यादव का आरोप है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच लोगों की मदद के बजाय शराब तस्करी में भाजपाई व्यस्त हो गए हैं। कानपुर, वाराणसी, गोरखपुर के बाद किशनी में अवैध शराब का धंधा करते भाजपा का सेक्टर संयोजक पकड़ा गया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के संरक्षण में शराब तस्करी, अवैध खनन और दूसरे अपराध खूब पनप रहे हैं।

चिंताजनक! यूपी में पिछले 15 दिनों में इतने गुना बढ़ा कोरोना संक्रमण

यूपी में कोरोना महामारी के प्रति योगी सरकार जरा भी गंभीर नहीं है। कोरोना संकट के इन भारी दिनों में भी 20 दिन से ज्यादा हो गए चिकित्सा स्वास्थ्य का महानिदेशक का पद आज भी खाली है। सरकार एक योग्य महानिदेशक का चयन तक नहीं कर सकी है। उनका कहना है कि जब विभाग में मुखिया ही नही है तो कामकाज कैसे चुस्त-दुरूस्त होगा? अखिलेश यादव ने राज्य की भाजपा सरकार को महाभ्रष्ट सरकार करार करते हुए कहा कि इस सरकार के कार्यकाल में जनता को चौतरफा मार पड़ रही है। मंहगाई, बीमारी और सरकारी उदासीनता ने जिन्दगी दूभर कर दी है। मुख्यमंत्री को नए-नए आदेश जारी करने के बजाय निष्पक्ष ढंग से हालात का जायजा लेना चाहिए। केवल बयानबाजी से प्रदेश का भला होने वाला नहीं।

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here