Brain Power Tips: दिमागी सेहत को बढ़ाने के लिए रोजाना करें ये चार चीजें | health – News in Hindi

0
77
.
Brain Power Tips: दिमागी सेहत को बढ़ाने के लिए रोजाना करें ये चार चीजें

मस्तिष्क की शक्ति बढ़ाने के लिए कुछ तरीकों को अपनाया जा सकता है.

Brain Power Tips: भागदौड़ भरी जिंदगी (Life) में कम समय में अधिक काम करने के लिए दिमाग (Brain) का स्वस्थ्य (Healthy) होना जरूरी है. ऐसे में मस्तिष्क की शक्ति बढ़ाने के लिए कुछ तरीकों को अपनाया जा सकता है…




  • Last Updated:
    July 23, 2020, 6:48 AM IST

इंसान का मस्तिष्क (Brain) लगातार काम करता है. मस्तिष्क कभी आराम नहीं करता लेकिन बहुत से काम करने के लिए मस्तिष्क का स्थिर होना बहुत जरूरी है. मस्तिष्क को स्वास्थ्य रखकर व्यक्ति अपने जीवन के हर पहलू में सुधार कर सकता है. myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि भागदौड़ भरी जिंदगी (Life) में कम समय में अधिक काम करने के लिए दिमाग का सही समय पर सही प्रतिक्रिया देना जरूरी है. ऐसे में मस्तिष्क की शक्ति बढ़ाने के लिए कुछ तरीकों को अपनाना जरूरी है. हम आपको यहां ऐसे 4 तरीके बता रहे हैं, जिसे वैज्ञानिक तौर पर रोजाना अपनाया जाना जरूरी है.

व्यायाम
सभी जानते हैं कि व्यायाम शरीर के लिए अच्छा है, लेकिन कई अध्ययनों के अनुसार शरीर को हिलाने से दिमाग को भी फायदा होता है. शारीरिक गतिविधियां जैसे तैराकी, चलना, जॉगिंग, डांसिंग केवल सेहत ही नहीं मस्तिष्क की कार्यप्रणाली को भी गतिशील करने में मदद करती हैं. बॉस्टन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया कि उम्र की परवाह किए बिना शारीरिक अभ्यास केवल शारीरिक स्वास्थ्य में ही नहीं स्मरण शक्ति ही नहीं बढ़ाता, बल्कि दिमाग को बेहतर तरीके से काम करने योग्य बनाता है. शोध 18 से 31 साल के स्वस्थ युवा और 55 से 74 साल के बुजुर्गों को लेकर किया गया था.

चाय पीनानेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर के एक अध्ययन के अनुसार खूब कॉफी पीना अल्जाइमर रोग को दूर करने के लिए अच्छा हो सकता है, लेकिन चाय पसंद करने वालों के लिए अच्छी खबर है कि चाय पीना मस्तिष्क के लिए भी अच्छा है. 60 और इससे अधिक उम्र के 36 नियमित चाय पीने वालों के न्यूरोइमेजिंग डेटा की जांच करने के बाद, शोधकर्ताओं ने पाया कि उनके पास चाय न पीने वालों की तुलना में बेहतर संगठित मस्तिष्क क्षेत्र थे. ये नतीजे मस्तिष्क संरचना के लिए चाय पीने के सकारात्मक योगदान का पहला सबूत पेश करते हैं और सुझाव देते हैं कि नियमित रूप से चाय पीने से एक सुरक्षात्मक प्रभाव पड़ता है. अध्ययन के प्रतिभागियों ने सप्ताह में कम से कम चार बार ग्रीन टी, ऊलोंग चाय या काली चाय पी थी.

अपने दिल का ध्यान रखें
एमोरी यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के अनुसार, दिल की अच्छी देखभाल करने का एक और फायदा है. यह मस्तिष्क के लिए भी अच्छा है. उन्होंने आइडेंटिकल ट्विन्स का विश्लेषण किया और पाया कि जिन लोगों ने दिल की अच्छी सेहत के लिए ब्लड शुगर, सीरम कोलेस्ट्रॉल, ब्लड प्रेशर, बॉडी मास इंडेक्ट, फिजिकल एक्टिविटी, डाइट, सिगरेट पीना जैसे जोखिम कारकों को कम किया है, उनका मस्तिष्क ज्यादा स्वस्थ था. सीनियर ऑथर वियोला वेकारिनो ने कहा कि जुड़वा बच्चों के पूरे नमूने के बारे में अध्ययन ने पुष्टि की है कि बेहतर हृदय स्वास्थ्य कई डोमेन में बेहतर संज्ञानात्मक स्वास्थ्य से जुड़ा है.

भूलना
टोरंटो यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया है कि भूलना मस्तिष्क के लिए अच्छा है. किसी भी स्मृति का लक्ष्य यह नहीं कि सटीक जानकारी देना, बल्कि केवल बहुमूल्य जानकारी देकर किसी भी विषय में सही निर्णय लेने में मदद करना है.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, ब्रेन हैमरेज के प्रकार, लक्षण, कारण, बचाव, इलाज और दवा पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here