कानपुर: बिकरू गांव कांड में ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने वाला शिवम दुबे को पुलिस ने दबोचा

0
104
.

कानपुर। अब तक के सबसे चर्चित विकास दुबे एंनकाउंटर के बाद एक एक कर के उसके साथियों पर पुलिस शिकंजा कस रही है। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या और विकास दुबे के सहयोगी शिवम दुबे को एसटीएफ ने सर्विलांस की मदद से गुरुवार रात को पकड़ लिया है। शिवम के रिश्तेदार अतुल दुबे को पुलिस ने घटना के दूसरे दिन यानी की तीन जुलाई को ही कांशीराम निवादा गांव में सर्च के दौरान एनकाउंटर में ढ़ेर कर दिया था।

बेशर्मी की सारी हदें पार, कोविड सेंटर में नाबालिग बच्ची के साथ हुई छेड़छाड़

एसटीएफ के सीओ टीबी सिंह ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि बिकरू कांड में फरार चल रहे आरोपी शिवम दुबे को चौबेपुर की एक जानी मानी डिटर्जेंट कंपनी के पास से पुलिस ने अपनी गिरफ्त में लिया है। आपको बता दें कि देर रात तक चौबेपुर पुलिस और एसटीएफ की टीमों ने शिवम से पूछताछ की। आरोपी शिवम ने बिकरूकांड से जुड़ी कई अहम जानकारियां अफसरों को दी है। पुलिस पर हमला करने के दौरान शिवम के साथ ही उसका रिश्तेदार एनकाउंटर में मारा गया अतुल दुबे भी शामिल था।

बर्रा अपहरण केस: फिरौती लेने के बाद भी अगवा संजीत की हत्या, पुलिस ने की पुष्टि, जानिए पूरा घटनाक्रम Kanpur kidnapping case, kidnapped Sanjit Yadav was killed even after taking the ransom, know the whole incident
एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्व ने बताया कि एफआईआर में नामजद आरोपित राजाराम उर्फ प्रेम कुमार, विकास का भांजा शिव तिवारी, विष्णु पाल यादव उर्फ जिलेदार, राम सिंह, रामू बाजपेई, गोपाल सैनी, हीरू दुबे, बउअन शुक्ला और बाल गोविंद फरार हैं। इन सभी की तलाश में पुलिस और एसटीएफ की टीमें काम कर रही हैं।

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here