नोएडा के जेपी अस्पताल में डीयू के छात्रा के साथ छेड़छाड़, आरोपी डॉक्टर भी है Corona संक्रमित | greater-noida – News in Hindi

0
76
.
नोएडा के जेपी अस्पताल में डीयू के छात्रा के साथ छेड़छाड़, आरोपी डॉक्टर भी है Corona संक्रमित

उसे 20 जुलाई को इसलोशन वार्ड में रखा गया था.(सांकेतिक फोटो)

पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के ऊपर आईपीसी की धारा 354 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona Positive Patient) डीयू की छात्रा है.

नोएडा. नोएडा के जेपी अस्पताल (JP Hospital) में एक कोरोना वायरस (Corona virus) से संक्रमित मरीज के साथ छेड़छाड़ (Molestation) का मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक, जेपी अस्पताल में दिल्ली विश्वविद्यालय की कोरोना पॉजिटिव छात्रा (DU Student) भर्ती है. उसी के बगल में एक 35 साल का कोरोना संक्रमित डॉक्टर भी एडमिट है. इसी संक्रमित डॉक्टर के ऊपर पीड़िता छात्रा ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया है.

बहरहाल, पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के ऊपर आईपीसी की धारा 354 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. बताया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव मरीज डीयू की छात्रा है. उसे 20 जुलाई को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था. 23 जुलाई को अमृत गोयल नाम के डॉक्टर जो कोरोना मरीज है, उसे भी उसी वार्ड में रखा गया. आरोप है कि छात्रा के साथ उसने बदसलूकी की. पुलिस ने आरोपी डॉक्टर के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

जांच में पीड़िता का बयान दर्ज किया जा चुका है
जांच में पीड़िता का बयान दर्ज किया जा चुका है. चूंकि डॉक्टर अभी कोरोना मरीज है इसलिए उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है. जैसे ही डॉक्टर की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आएगी, पुलिस उसके खिलाफ कार्रवाई करेगी. जैसे ही पीड़िता का बयान दर्ज हुआ पुलिस के कहने पर अस्पताल प्रसाशन ने डॉक्टर को दूसरे वार्ड में शिफ्ट कर दिया. आपको बता दें कि अलीगढ़ के एक कोरोना अस्पताल और दिल्ली के एक कोरोना अस्पताल में भी इसी तरह के मामले सामने आ चुके हैं.पीएमसीएच नाबालिग से रेप किया था
बता दें कि बीते दिनों बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पीएमसीएच (PMCH) में नाबालिग लड़की के साथ रेप (Minor Girl rape) का मामला सामने आया था. हैवानियत का यह आरोप अस्पताल के ही एक गार्ड पर लगा है. मिली जानकारी के मुताबिक बीते पांच जुलाई को अस्पताल के चाइल्ड केयर सेंटर में 14 वर्षीय इस लड़की को लाया गया था. जहां से बाद में उसे अस्पताल में ही बने आइसोलेशन सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया था. इस दौरान घटना वाले दिन वहां ड्यूटी पर तैनात महेश कुमार नाम का गार्ड पीड़िता को बहला-फुसला कर वॉशरूम ले गया जहां उसने उसके साथ गलत काम (रेप) किया. यह घटना बीते आठ जुलाई की है.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here