अब फोन पर बात करते चलाई गाड़ी तो भरना होगा 10 हजार रुपए का जुर्माना

0
48
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में दिन पर दिन नियमों को पहले से ज्यादा सख्त किया जा रहा है। गाड़ी चलाने वाले भी अब सतर्क हो जाएं क्योंकि गाड़ी चलाने पर लापरवाही बरपतने पर लंबा फटका लग सकता है। अब आपके बास दो पहिया वाहन हो या चार पहिया वाहन हो दोनों ही चलाते समय अगर कोई फोन का इस्तेमाल करते पकड़ा जाता है तो पहली बार में एक हजार और दूसरी बार में सीधे दस हजार रुपए का जुर्माना भरना पड़ेगा। ऐसे ही अगर पार्किंग का उल्लंघन किया तो पहले 500 रुपए पहली बार और दूसरी बार पकड़े जाने पर एक हजार रुपए था। वही अब पहली बार तो 500 रुपए ही जुर्माना रहेगा तो दूसरी बार 1500 रुपए जुर्माना देना ही होगा।

अनलॉक 3.0 में भी शनिवार-रविवार रहेगा लॉकडाउन, नहीं लगेगा नाइट कर्फ्यू

आपको बता दें कि बिना सुरक्षा बेल्ट के कार चलाने पर एक हजार और बिना लाइसेंस या 14 साल से कम उम्र के बच्चे के बिना वैध लाइसेंस के वाहन चलाने पर 5000 रुपए जुर्माना भरना होगा। निर्धारित गति सीमा से ज्यादा तेज वाहन चलाने पर दो हजार और यात्री व माल वाहन के लिए यही जुर्माना चार हजार रुपए होगा। निशक्त व्यक्ति के वाहन चलाने पर पहली बार में एक हजार और दूसरी बार में जुर्माना दो हजार रुपए देना होगा। दो पहिया वाहन पर तीन सवारी या इससे ज्यादा बैठाने पर एक हजार रुपए जुर्माना देना पड़ेगा।

दिल्ली: राजधानी में खुले ऑफिस, कॉरपोरेट हाउस करा रहे अपने कर्मचारियों की जांच

आपको बता दें कि यूपी मोटरयान नियमावली के अंतरगत तहत बढ़ी हुई दर से जुर्माना लगाए जाने के परिवहन विभाग के प्रस्ताव को कैबिनेट ने 16 जून को मंजूरी दे दी थी। अब गुरुवार को शासनादेश भी जारी कर किया है। इसके अंतरगत नियमों को और ज्यादा सख्त किया गया है। इसी तरह अधिकारी की बात नही मानने और उसके काम मे बाधा डालने पर पहले जुर्माना 1000 था अब 2000 रुपए देना होगा। ड्राइविंग लाइसेस में गलत तथ्य देने पर पहले 2500 रुपए का जुर्माना था लेकिन अब 10 हजार जुर्माना भरना होगा। फायर व एम्बुलेंस को रास्ता नही देने पर 10000 का सीधा जुर्माना भरना होगा। वाहन का मॉडल बदले जाने और वाहन के विनियमों के उल्लंघन में निर्माता और डीलर को प्रति वाहन एक लाख का जुर्माना देना होगा। मोटरयान के नियमों के विपरीत वाहन स्वामी द्वारा वाहन में परिवर्तन किए जाने पर पांच हजार रुपए जुर्माना होगा।

 

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here