दिल्ली: राजधानी में खुले ऑफिस, कॉरपोरेट हाउस करा रहे अपने कर्मचारियों की जांच

0
56
.

दिल्ली। राजधानी दिल्ली में आर्थिक गतिविधियों में तेजी आनी शुरु हो गई है। धीमे-धीमे लोगों ने अब ऑफिस जाना शुरु कर दिया है। वैश्विक महामारी कोरोना ने देश दुनिया का हाल बेहाल कर रखा है। लोगों में इस बात का जबरदस्त खौफ है कि किसी तरह वो इस वायरस की चपेट में न आ जांए।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते पूरे देश में लॉकडाउन लगाया गया था। जिसके चलते सभी दफ्तर बंद चल रहे थे। दिल्ली-एनसीआर में तो हालात ये हैं कि अभी तक सारे दफ्तर खुल नहीं सके हैं। आपको बता दें कि लोगों को बंदी के चलते काफी आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ा जिस वजह से अब लोगों ने ऑफिस खोलना शुरु कर दिया है। ऐसे में कॉरपोरेट हाउसेस अपने-अपने कर्मचारियों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए उनके रैपिड एंटीजन और एंटीबॉडी टेस्ट कराने के लिए जांच लैब्स और अस्पतालों से संपर्क कर रहे हैं।

आपको बता दें कि दिल्ली में पिछले महीने ही रैपिड एंटीजन टेस्ट को मंजूरी मिल गई थी जोकि आरटी-पीसीआर जांच के मुकाबले सस्ता और जल्दी नतीजे देने वाला ऑपशन है। जानकारी के लिए बता दें कि सीड्स ऑफ इनोसेंस एंड जीनस्ट्रिंग्स प्रयोगशाला के सीओओ चेतन कोहली ने बताया कि लोग एंटीजन टेस्ट के बारे में पूछताछ कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि ज्यादातर सवाल सरकार की ओर पूछे जा रहे हैं। जो अपने कर्मचारियों का एंटीजन टेस्ट कराना चाहते हैं क्योंकि उनके एक या दो कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं।

राजधानी दिल्ली में आर्थिक गतिविधियों में तेजी आनी शुरु हो गई है। धीमे-धीमे लोगों ने अब ऑफिस जाना शुरु कर दिया है। वैश्विक महामारी कोरोना ने देश दुनिया का हाल बेहाल कर रखा है। लोगों में इस बात का जबरदस्त खौफ है कि किसी तरह वो इस वायरस की चपेट में न आ जांए।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते पूरे देश में लॉकडाउन लगाया गया था। जिसके चलते सभी दफ्तर बंद चल रहे थे। दिल्ली-एनसीआर में तो हालात ये हैं कि अभी तक सारे दफ्तर खुल नहीं सके हैं। आपको बता दें कि लोगों को बंदी के चलते काफी आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ा जिस वजह से अब लोगों ने ऑफिस खोलना शुरु कर दिया है। ऐसे में कॉरपोरेट हाउसेस अपने-अपने कर्मचारियों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए उनके रैपिड एंटीजन और एंटीबॉडी टेस्ट कराने के लिए जांच लैब्स और अस्पतालों से संपर्क कर रहे हैं। आपको बता दें कि दिल्ली में पिछले महीने ही रैपिड एंटीजन टेस्ट को मंजूरी मिल गई थी जोकि आरटी-पीसीआर जांच के मुकाबले सस्ता और जल्दी नतीजे देने वाला ऑपशन है।

जानकारी के लिए बता दें कि सीड्स ऑफ इनोसेंस एंड जीनस्ट्रिंग्स प्रयोगशाला के सीओओ चेतन कोहली ने बताया कि लोग एंटीजन टेस्ट के बारे में पूछताछ कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि ज्यादातर सवाल सरकार की ओर पूछे जा रहे हैं। जो अपने कर्मचारियों का एंटीजन टेस्ट कराना चाहते हैं क्योंकि उनके एक या दो कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं।

 

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here