कोविड-19 पर प्रभावी नियन्त्रण के लिए प्रोएक्टिव होकर करें काम: CM योगी

0
70
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को उच्चस्तरीय बैठक में कोविड-19 पर प्रभावी नियन्त्रण के लिए प्रोएक्टिव होकर काम करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर के माध्यम से बेहतर समन्वय बनाकर मरीजों को सभी चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएं।

सीएम योगी ने कहा कि सभी चिकित्सा संसाधनों की पर्याप्त संख्या में व्यवस्था की जाए। आवश्यकतानुसार अतिरिक्त वेंटिलेटर्स का प्रबन्ध किया जाए। पोर्टेबल वेंटिलेटर्स की भी व्यवस्था की जाए। उन्होंने बीआरडी मेडिकल कॉलेज, गोरखपुर तथा झांसी मेडिकल कॉलेज में तत्काल अतिरिक्त वेंटिलेटर्स की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

राज्यसभा सांसद अमर सिंह का 64 वर्ष की उम्र में निधन
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतिदिन 1 लाख से अधिक कोविड-19 के टेस्ट कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि यह टेस्ट आरटीपीसीआर, ट्रूनैट मशीन और रैपिड एन्टीजन विधि से किए जाएं। साथ ही एन्टीजन टेस्ट की संख्या को बढ़ाए जाने के निर्देश देते हुए सीएम योगी ने कहा कि रैपिड एन्टीजन टेस्ट किट की सुचारु उपलब्धता प्रत्येक जनपद में होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि मरीजों को सुविधाएं सुलभ कराने के लिए पूरी संवेदनशीलता बरतते हुए कार्य किया जाए, जिससे प्रत्येक जरूरतमन्द को बेड, वेंटिलेटर, ऑक्सीजन आदि उपलब्ध हो सके। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन के मरीजों से निरन्तर संवाद बनाकर उनकी स्थिति का प्रभावी अनुश्रवण किया जाए। साथ ही बायो-मेडिकल वेस्ट को निर्धारित मानकों के अनुरूप निस्तारित करने के भी निर्देश दिए।

सीएम योगी ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि खाद्यान्न वितरण का कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ सम्पन्न हो। गो आश्रय स्थलों से जनप्रतिनिधियों सहित अन्य समाजसेवियों को भी जोडे़ जाने पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि गो आश्रय स्थलों की व्यवस्था को बेहतर बनाए रखने के लिए निरन्तर प्रयास किए जाएं।

प्रशासनिक दबाव के चलते अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने दिया इस्तीफा

मुख्यमंत्री योगी ने निर्देशित करते हुए कहा कि सभी त्योहारों को शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए पूरी सावधानी बरती जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता रहे। पुलिस द्वारा निरन्तर पेट्रोलिंग की जाए। सोशल डिस्टेंसिंग के पालन पर विशेष ध्यान दिया जाए। सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ एकत्र न होने पाए। उन्होंने कहा कि रक्षाबन्धन के पर्व पर राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा सभी रूटों पर बस सेवा संचालित की जाए।

सीएम योगी ने जनपद स्तर पर स्थापित जिला सेवायोजन कार्यालयों को सक्रिय करने के लिए कहा। कार्यालय द्वारा रोजगार की उपलब्धता तथा जिन्हें रोजगार दिलाया गया, उनकी संख्या सेवायोजन पोर्टल पर प्रतिदिन अपडेट करने के लिए कहा।

सुनने की क्षमता कम होना भी है कोरोना संक्रमण का लक्षण

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here