सुशांत सिंह राजपूत केस लेटेस्ट अपडेट्स

0
49
.

Edited By Shefali Srivastava | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

सुशांत की मौत पर राजनीतिसुशांत की मौत पर राजनीति
हाइलाइट्स

  • सुशांत की मौत की जांच में बिहार के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को मुंबई में क्वारंटीन किए जाने पर हंगामा
  • मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महाराष्ट्र के पुलिस अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि यह ठीक नहीं है
  • बिहार विधानसभा में सुशांत केस को सीबीआई ट्रांसफर करने की मांग, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी किया समर्थन

मुंबई/पटना

बॉलीवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच करने गए बिहार पुलिस के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को मुंबई में क्वारंटीन किए जाने पर हंगामा मचा हुआ है। इस मसले को लेकर बिहार और महाराष्ट्र सरकार आमने-सामने हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महाराष्ट्र के पुलिस अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि यह ठीक नहीं है। वहीं बिहार विधानसभा में भी आज सुशांत की मौत का मुद्दा उठाया गया। केस को सीबीआई में ट्रांसफर करने की मांग की गई जिस पर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने भी समर्थन किया। आगे पढ़िए, अब तक इस केस पर किसने क्या कहा-



यह सही नहीं हुआ- नीतीश कुमारबिहार पुलिस के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी के मुंबई पहुंचने के साथ ही जबरन क्वारंटीन किए जाने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश काफी नाराज हैं। नीतीश ने कहा है कि हमारे अधिकारी के साथ मुम्बई में जो हुआ, वह सही नहीं है। पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मुंबई गए आईपीएस अधिकारी के साथ जो हुआ वह सही नहीं हुआ। वो अपनी ड्यूटी कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि हमारे पुलिस महानिदेशक इस मामले में महाराष्ट्र के अधिकारियों से बात करेंगे।

पढ़ें: सुशांत सिंह राजपूत केस: मुंबई पुलिस बोली- हमारी जांच पूरी तरह प्रफेशनल



मुंबई पुलिस केस की जांच में समर्थ-संजय राउत

उधर शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर मुंबई पुलिस पर भरोसा जताते हुए कहा कि मुंबई पुलिस इस केस की जांच खुद कर सकती है। संजय राउत ने कहा, ‘अगर मुंबई पुलिस पहले से ही केस की जांच कर रही है तो कोई दूसरा जो महाराष्ट्र सरकार और इस केस से जुड़ा नहीं है, उसे इस पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। मुंबई पुलिस खुद से इसकी जांच करने में समर्थ है।’

NBT

मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह

मुंबई पुलिस सही दिशा में कर रही जांच- अनिल देशमुख

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने भी मुंबई पुलिस पर विश्वास दिखाया। अनिल देखमुख ने कहा, ‘मुंबई पुलिस केस की सही दिशा में प्रफेशनल तरीके से मामले की जांच कर रही है।’ अनिल देशमुख ने इससे पहले भी मुंबई पुलिस की जांच को सही ठहराया था। उन्होने कहा था कि केस को सीबीआई में ट्रांसफर करने की जरूरत नहीं है।

बिहार विधानसभा में हंगामा, तेजस्वी ने की CBI जांच की मांग

सुशांत सिंह राजपूत के रिश्तेदार और बीजेपी विधायक नीरज कुमार सिंह ने बिहार विधानसभा में ऐक्टर की मौत का मामला उठाया और सीबीआई जांच की मांग की। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी सुशांत केस की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। बिहार विधानसभा में इस मुद्दे को लेकर जमकर हंगामा देखने को मिला है। नीरज की पत्नी और एमएलसी नूतन सिंह ने यही डिमांड विधानपरिषद में उठाई।

महाराष्ट्र सरकार का रवैया संघीय ढांचे के खिलाफ- बिहार के मंत्री

मुंबई पुलिस के जांच में बिहार पुलिस का सहयोग न करने पर राज्य सरकार में मंत्री जय सिंह ने सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार का रवैया संघीय ढांचे के खिलाफ है। इससे पहले बिहार सरकार के ही मंत्री संजय झा ने कहा कि पुलिस अधिकारी के जांच शुरू करते ही उन्हें क्वारंटीन कर दिया गया। उन्होंने कहा, ‘बिहार पुलिस के चार अधिकारी पहले से ही मुंबई में हैं, वे भी विमान के जरिए वहां गए थे लेकिन उन्हें क्वारंटीन नहीं किया गया। हमने जांच में तेजी लाने के लिए एक आईपीएस अधिकारी को भेजा लेकिन जब उन्होंने अपनी जांच शुरू की तो उन्हें क्वारंटीन कर दिया गया।’

पढ़ें: बिहार विधानसभा में उठा सुशांत की मौत मामला, तेजस्वी ने की सीबीआई जांच की मांग



मुंबई पुलिस और बीएमसी पगला गए हैं- संजय निरूपम

मुंबई पुलिस पर उठ रहे सवालों के बीच कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने भी ट्वीट कर आईपीएस को क्वारंटीन करने पर सवाल उठाकर सीएम उद्धव ठाकर से हस्तक्षेप की मांग की। संजय निरूपम ने लिखा, ‘लगता है, BMC और मुंबई पुलिस पगला गए हैं। सुशांत सिंह मृत्यु कांड की जांच करने आए IPS अफसर तिवारी को 15 अगस्त तक क्वारंटीन कर दिया।जांच कैसे होगी ? मुख्यमंत्री तत्काल हस्तक्षेप करें। तिवारी को रिलीज कराएं और जांच में मदद करें वरना मुंबई पुलिस पर शक और बढ़ेगा।’

NBT

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे

क्या बोली मुंबई पुलिस?

मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘कानून इस बारे में बिल्कुल क्लियर है। जहां पर एफआईआर दर्ज हुई वहां का मामला नहीं है तो पुलिस जीरो एफआईआर करके इस केस को ट्रांसफर करती है। हम इस बारे में लीगल एक्सपर्ट से भी राय ले रहे हैं कि सुशांत सिंह राजपूत के केस में बिहार पुलिस के पास अधिकार क्षेत्र है या नहीं। फिर भी अगर उनके पास अधिकार क्षेत्र है तो उन्हें इसे साबित करना होगा।’

‘सुशांत के घर पर नहीं हुई थी कोई पार्टी’

उन्होंने कहा कि कहा कि मरहूम सुशांत सिंह राजपूत के घर पर 13 जून को कोई पार्टी नहीं हुई थी। यह पूछे जाने पर कि जैसा कि सोशल मीडिया पर काफी जोर-शोर है कि इस मामले में महाराष्ट्र की कोई बड़ी राजनीतिक हस्ती शामिल लगती है, इस पर सिंह ने कहा कि अब तक की जांच से ऐसा कोई तथ्य सामने नहीं आया है। परम बीर सिंह ने कहा, ‘मुंबई पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है। हमने हर एक ऐंगल खंगाल रहे हैं। हमने इस सिलसिले में सुशांत के परिजनों, दोस्तों, डॉक्टर और अन्य लोगों के बयान लिए हैं। इसके अलावा हमने सुशांत के बैंक खातों से ट्रांजेक्शन को भी खंगाला है।’

क्या बोले बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट करते बताया था, ‘आईपीएस अधिकारी बिनय तिवारी आज पुलिस टीम का नेतृत्व करने के लिए आधिकारिक ड्यूटी पर पटना से मुंबई पहुंचे, लेकिन उन्हें आज रात 11 बजे बीएमसी के अधिकारियों ने जबरन क्वारंटीन कर दिया। अनुरोध के बावजूद उन्हें आईपीएस मेस में रहने की व्यवस्था नहीं की गई और अब उन्हें गोरेगांव के एक गेस्ट हाउस में रखा गया है।’ उन्होंने बाद में कहा कि वह महाराष्ट्र के डीजीपी और दूसरे अधिकारियों से बात करने की कोशिश कर रहे हैं।



मुंबई में रोके गए IPS विनय तिवारी


बता दें कि बिहार पुलिस की चार सदस्यीय पुलिस टीम मुंबई में सुशांत आत्महत्या मामले की जांच कर रही है। इसी सलिसिले में आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को रविवार को मुंबई भेजा गया था लेकिन रात करीब 11 बजे बीएमसी ने तिवारी को क्वारंटीन कर दिया।

सुशांत सिंह मामला: IPS विनय तिवारी के क्वारंटीन पर सीएम नीतीश ने कहा- जो हुआ ठीक नहीं हुआसुशांत सिंह मामला: IPS विनय तिवारी के क्वारंटीन पर सीएम नीतीश ने कहा- जो हुआ ठीक नहीं हुआ

मुंबई से जुड़ी हर खबर अब Telegram पर भी। हमसे जुड़ने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें और पाते रहें हर जरूरी अपडेट।

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here