पत्नी के सिर को धड़ से अलग कर 60 किलोमीटर दूर नहर में फेंका शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा The body of the wife’s head severed from the torso and thrown into the canal 60 km away sent for postmortem

0
101
.

पति पत्नी का साथ एक जन्म नहीं बल्कि सातों जन्म का होता है. लेकिन बिहार के रोहतास से ऐसी खबर आ रही है कि पति ने ही पत्नी को मौत के घाट उतार दिया. हत्या का बहुत ही दर्दनाक मामला सामने आया है. नटवार थाना क्षेत्र के विशंभरपुर नहर से एक विवाहिता का सिर-कट

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

रोहतास:

पति पत्नी का साथ एक जन्म नहीं बल्कि सातों जन्म का होता है. लेकिन बिहार के रोहतास से ऐसी खबर आ रही है कि पति ने ही पत्नी को मौत के घाट उतार दिया. हत्या का बहुत ही दर्दनाक मामला सामने आया है. नटवार थाना क्षेत्र के विशंभरपुर नहर से एक विवाहिता का सिर-कटा हुआ शव बरामद हुआ है. महिला की पहचान शिवसागर थाना अंतर्गत रसेंदुआ गांव निवासी अनुज कुमार की पत्नी के रूप में हुई है. मृतक के पिता मदन प्रसाद ने इस संबंध में लड़की के पति ससुर तथा अन्य ससुराल पक्ष पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है. बताया जा रहा है कि 25 अप्रैल 2018 को सासाराम के गोपालगंज निवासी मदन प्रसाद की बेटी आकांक्षा की शादी शिवसागर के रसेंदुआ गांव निवासी अनुज कुमार के साथ हुई थी. आरोप है कि शादी के बाद से ही लड़की को प्रताड़ित किया जा रहा था.

यह भी पढ़ें- 150 कोरोना वॉरियर्स संभालेंगे अयोध्या में पीएम मोदी का सुरक्षा घेरा

ससुराल वालों ने आकंक्षा की हत्या की साजिश रची

इस मामले में पीड़ित महिला ने महिला थाना में एक केस भी दर्ज करा चुकी थी. इससे नाराज ससुराल वालों ने आकंक्षा की हत्या की साजिश रची. आकंक्षा की धारदार हथियार से हमला कर सिर काट दिया. 60 किलोमीटर दूर नटवार में नहर में जाकर फेंक दिया. सिर को गायब कर दिया. शव पूरी तरह से क्षत-विक्षत है. महिला की पहचान उसके कपड़े से हुई है. पुलिस तमाम बिंदुओं पर जांच कर रही है. फिलहाल शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सासाराम के सदर अस्पताल लाया गया. वहीं मृतक के सिर की तलाश जारी है. इस संबंध में ससुराल पक्ष के लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

यह भी पढ़ें- VHP मुख्यालय पर भी धूमधाम से मनेगा राम मंदिर भूमि पूजन का उत्सव, यहीं से तैयार हुई आंदोलन की रणनीति 

सिर कटी लाश बरामद

फिलहाल अब तक किसी की गिरफ्तारी सुनिश्चित नहीं हो सकी है. मृतका के भाई अभिषेक कुमार ने बताया कि उसकी बहन को जब लगातार प्रताड़ित किया जा रहा था तो इसकी शिकायत महिला थाने में की गई थी. यही कारण है कि ससुराल वालों ने सबक सिखाने के उद्देश्य से आकांक्षा को दर्दनाक मौत दी तथा शव को छिपाने के लिए घर से 60 किलोमीटर दूर नहर में फेंक दिया गया. आकांक्षा शिवसागर की रहने वाली थी तथा उसके शव को नटवार थाना क्षेत्र से बरामद किया गया है. इस संबंध में बिक्रमगंज के डीएसपी राज कुमार पूरे मामले की छानबीन में लगे हैं तथा आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत हैं. .


First Published : 05 Aug 2020, 09:30:06 AM

For all the Latest Crime News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here