राम जन्मभूमि परिसर में पहली बार पीएम मोदी और संघ प्रमुख मोहन भागवत दिखे एक साथ | ayodhya – News in Hindi

0
60
.
राम जन्मभूमि परिसर में पहली बार पीएम मोदी और संघ प्रमुख मोहन भागवत दिखे एक साथ

अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी के साथ आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत (RSS Chief Mohan Bhagwat) ने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व संघ प्रमुख ने कहा था 20-30 साल काम करना होगा, आज 30वें साल की शुरुआत में काम शुरू हुआ है. आज आनंद का क्षण है.

अयोध्या. राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को अयोध्या पहुंचे. इसके साथ ही पीएम मोदी के नाम इतिहास में दर्ज हो गया. दरअसल आजादी के बाद यह पहला मौका था जब देश का कोई प्रधानमंत्री राम जन्मभूमि (Ram Janmbhumi) पहुंचा हो. वैसे मोदी से पहले इंदिरा गांधी (Indira Gandhi), राजीव गांधी (Rajeev Gandhi) और अटल बिहारी वाजपेयी (Atall Bihari Vajpayee) भी प्रधानमंत्री रहते अयोध्या पहुंचे थे, लेकिन कोई भी विवाद की वजह से इस जगह पर नहीं गया. यही नहीं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) के साथ भी राम जन्मभूमि परिसर में पहली बार पीएम मोदी ने सार्वजनिक मंच साझा किया.

देश में अब आत्मनिर्भर बनाने की ओर काम जारी है: मोहन भागवत

इस दौरान मोहन भागवत ने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व संघ प्रमुख ने कहा था 20-30 साल काम करना होगा, आज 30वें साल की शुरुआत में काम शुरू हुआ है. आज आनंद का क्षण है. कई लोग महामारी के कारण नहीं आ पाए, लालकृष्ण आडवाणी जी भी नहीं आ पाए हैं. देश में अब आत्मनिर्भर बनाने की ओर काम जारी है, आज महामारी के बाद पूरा विश्व नए रास्तों को ढूंढ रहा है. जैसे-जैसे मंदिर बनेगा, राम की अयोध्या भी बननी चाहिए. हमारे मन में मंदिर बनना चाहिए और कपट को छोड़ना चाहिए.

एक दिन पहले ही भागवत पहुंचे अयोध्याबता दें संघ प्रमुख मोहन भागवत एक दिन पहले अयोध्या पहुंच गए थे. अयोध्या पहुंच कर मोहन भागवत ने साधु-संतों का आशीर्वाद लिया. श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने इस आयोजन में विशिष्ट अतिथि के रूप में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के अध्यक्ष मोहन भागवत को शामिल किया.

नरेंद्र मोदी 29 साल बाद अयोध्या पहुंचे

वैसे नरेंद्र मोदी खुद 29 साल बाद अयोध्या पहुंचे हैं. इससे पहले वह 1991 में अयोध्या गए थे. तब भाजपा अध्यक्ष रहे मुरली मनोहर जोशी तिरंगा यात्रा निकाल रहे थे और यात्रा में मोदी उनके साथ रहते थे. उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव के वक्त फैजाबाद-अंबेडकर नगर में एक रैली को सं‍बोधित किया था, लेकिन अयोध्या नहीं गए थे.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here