Post COVID-19 Care: सूखी और बलगम वाली खांसी से राहत पाने के तरीके | health – News in Hindi

0
274
.
Post COVID-19 Care: सूखी और बलगम वाली खांसी से राहत पाने के तरीके

सूखी और बलगम वाली खांसी में देखभाल की जरूरत ज्यादा

Post COVID-19 Care: बहुत सारा पानी पीकर खुद को हाइड्रेटड रखें (गुनगुना पानी पीना ज्यादा फायदेमंद रहेगा) पानी को निगलने में आसानी हो इसके लिए छोटे-छोटे घूंट लेकर पानी पिएं.




  • Last Updated:
    August 5, 2020, 11:19 AM IST

मार्च 2020 में जब डब्ल्यूएचओ ने कोविड-19 को पेंडेमिक घोषित किया था उसी समय से बुखार, सूखी खांसी और सांस लेने में तकलीफ इसके प्रमुख लक्षणों में हैं. जैसे-जैसे कोविड-19 बीमारी ने अपने पांव पसारे और इस पर रिसर्च हुई, डब्ल्यूएचओ और सीडीसी ने कई अन्य लक्षणों को भी इस लिस्ट में जोड़ा.

सूखी और बलगम वाली खांसी में देखभाल की जरूरत ज्यादा

अगर आप सीडीसी की लिस्ट में अब कोविड-19 के लक्षणों को देखेंगे तो उसमें सूखी खांसी मौजूद नहीं है. इस लिस्ट में अब सूखी खांसी की जगह पर सिर्फ खांसी का जिक्र है और यह कोविड-19 के सबसे आम लक्षणों में दूसरे नंबर पर है. मार्च से लेकर अब तक कई स्टडी हुई हैं, जिनमें पता चला है कि यदि कोई व्यक्ति कोविड-19 की चपेट में आता है तो उसे सूखी या बलगम वाली खांसी हो सकती है.जुलाई 2020 में लांसेट में छपी एक स्टडी के अनुसार अस्पताल में भर्ती होने के कुछ दिनों बाद मरीज को बलगम वाली खांसी हो सकती है. सीडीसी ने भी माना है कि कोविड-19 से पीड़ित मरीज को इस संक्रमण के बाद बलगम वाली खांसी हो सकती है. कोविड-19 में सूखी और बलगम वाली दोनों तरह की खांसी हो सकती हैं. इसलिए अगर आप इस बीमारी से उबर रहे हैं तो खांसी पर नियंत्रण रखने के लिए जरूरी कदम उठाएं.

सूखी खांसी से कैसे निपटें

सूखी खांसी की वजह से आपके गले में अधिक तकलीफ हो सकती है. ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) के अनुसार सूखी खांसी को नियंत्रित करने के लिए निम्न उपाय किए जा सकते हैं –

बहुत सारा पानी पीकर खुद को हाइड्रेटड रखें (गुनगुना पानी पीना ज्यादा फायदेमंद रहेगा)
पानी को निगलने में आसानी हो इसके लिए छोटे-छोटे घूंट लेकर पानी पिएं.
सूखी खांसी से जल्द निजात पाने के लिए भाप लें. इसके लिए एक बड़े पात्र में गर्म पानी लें और उसके ऊपर अपना सिर लाकर गर्मागर्म भाप को सांस के रूप में अंदर लें. अपने सिर और बाउल को तौलिये या कंबल से ढक लें. आप चाहें तो स्टीम इनहेलेशन मशीन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.
नींबू और शहद डालकर गर्म पानी का सेवन करें और गले को आराम देने के लिए काढ़ा पिएं.
अगर आपको खांसी आ रही है और आपके पास पीने के लिए गुनगुना पानी या काढ़ा नहीं है तो बार-बार निगलने की कोशिश करें.

बलगम वाली खांसी से ऐसे निपटें

बलगम वाली खांसी से निपटना मुश्किल हो सकता है, क्योंकि आपको बार-बार बलगम को बाहर थूकना पड़ता है. यहां इस बात का भी ध्यान रखना होता है कि कोविड-19 बहुत ही ज्यादा संक्रामक बीमारी है, इसलिए आप कहीं भी नहीं थूक सकते. इस बलगम का सही से निस्तारण बहुत जरूरी है. जिस सिंक में आप बलगम थूकते हैं उसे नियमित तौर पर डिसइंफेक्ट करना भी जरूरी होता है. एनएचएस ने बलगम वाली खांसी से निपटने के लिए कुछ प्वाइंट बताए हैं –

  • खुद को गुनगुने पानी, शोरबा, शूप, हर्बल चाय और काढ़ा से हाइड्रेटेड रखें.
  • फेफड़ों में जमे बलगम को हल्का करने के लिए दिन में कम से कम तीन बार भाप लें.
  • पीठ के बल लेटने की बजाय दाईं या बाईं करवट लेकर लेटें. इससे बलगम को जल्द बाहर निकलने में मदद मिल सकती है.
  • जिस कमरे में आप हैं वहां लगातार वॉक करने से फेफड़ों का काम आसान हो जाता है. इससे आपको बलगम को बाहर फेंकना भी आसान हो जाएगा. इसलिए कोशिश करें कि अपने कमरे में वॉक करते रहें. (अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, कोरोना के बाद का जीवन: कोविड-19 से रिकवर होने वाले मरीज की देखभाल कैसे करें पढ़ें।) (न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।)

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here