कोरोना से प्रभावित आर्थिक गतिविधियों को पटरी पर लाने का प्रयास जारी: सुरेश कुमार खन्ना

0
23
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने प्रेस कॉनफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोरोना महामारी के कारण प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां प्रभावित हुई हैं। जिनको अब धीरे-धीरे पटरी पर लाते हुए पहले की तरह पुनः गति प्रदान की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि अप्रैल, मई और जून की अपेक्षा जुलाई में आर्थिक गतिविधियां काफी बेहतर हुई हैं।

उन्होंने बताया कि विभिन्न प्रकार के राज्य करों के अन्तर्गत जुलाई 2020 में संग्रहित कुल धनराशि पिछले साल हुए जुलाई की राजस्व प्राप्ति की तुलना में 97.70 प्रतिशत है। इसके तहत जुलाई 2019 में 10926.36 करोड़ रूपए संग्रहित हुए थे। माह जुलाई 2020 में कुल राजस्व प्राप्ति 10675.42 करोड़ रूपए है। जीएसटी/वैट में जुलाई 2020 में 6024.16 करोड़ रूपए का राजस्व प्राप्त हुआ, जबकि इस मद में गत वर्ष इसी अवधि में 6564.88 करोड़ रूपए की धनराशि प्राप्त हुई थी।

कोरोना को रोकना है तो सर्विलांस का सशक्त होना जरूरी: CM योगी

जुलाई 2020 में जीएसटी के रूप में 4120.62 करोड़ रूपए संग्रहित हुए। जिसमें एसजीएसटी 1799.81 करोड़ रूपए तथा आईजीएसटी 2320.81 करोड़ रूपए की धनराशि शामिल है। गत वर्ष जुलाई माहीने में एसजीएसटी में 1850.71 करोड़ रूपए तथा आईजीएसटी में 3011.87 करोड़ रूपए की धनराशि प्राप्त हुई थी।

सुरेश खन्ना ने बताया कि वैट के अन्तर्गत जुलाई 2020 में 1903.54 करोड़ रूपए की धनराशि संग्रहित हुई, जबकि गत वर्ष इस अवधि में वैट के अन्तर्गत 1702.30 करोड़ रूपए की धनराशि प्राप्त हुई थी। उन्होंने बताया कि वैट से प्राप्त राजस्व  माह जुलाई में गत वर्ष की तुलना में ज्यादा प्राप्त हुआ है।

बड़ी खबर: शायर मुनव्वर राणा बोले-देश आज ‘भगवान राम’ का हिंदुस्तान नहीं है | ayodhya – News in Hindi

उन्होंने बताया कि आबकारी/स्टाम्प तथा निबंधन/परिवहन के अन्तर्गत जुलाई 2019 में 4214.27 करोड़ रूपए प्राप्त हुए थे, जबकि इस मद में वर्तमान वित्तीय वर्ष के माह जुलाई में 4472.72 करोड़ रूपए की राजस्व प्राप्ति हुई है, जो गत वर्ष की तुलना में अधिक है। साथ ही उन्होंने बताया कि भूतत्व एवं खनिकर्म में गत वर्ष की अपेक्षा वर्तमान वित्तीय वर्ष के जुलाई माह में अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है। जुलाई 2019 में इस मद में जहां 147.21 करोड़ रूपए की प्राप्ति हुई थी वहीं वर्तमान वित्तीय वर्ष के जुलाई माह में 178.54 करोड़ रूपए राजस्व के रूप में संग्रहित हुए हैं।

Drugs worth Rs 1000 crore seized at Navi Mumbai port – नवी मुंबई में पकड़ी गई 1000 करोड़ रुपये की ड्रग्स, 2 लोग गिरफ्तार

उन्होंने कोरोना जैसी विषम परिस्थिति में वित्तीय प्रबंधन को बेहतर बनाये रखने हेतु अपर मुख्य सचिव वित्त को बधाई दी। उन्होंने कहा कि सीएम योगी ने इस सम्बंध में समय-समय पर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये। उन्होंने कहा कि विपरीत परिस्थितियों के बावजूद प्रदेश के समस्त कर्मचारियों का वेतन एवं पेंशन बिना किसी कटौती के ससमय भुगतान किया गया एवं वर्तमान में भी प्रतिमाह किया जा रहा है।

अगले 3 घंटे में यूपी के इन जिलों में होगी झमाझम बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट

उन्होंने इस बाक की जानकारी दी कि आगामी 20 अगस्त से उत्तर प्रदेश विधान सभा का सत्र प्रारम्भ हो रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना जैसी विषम परिस्थिति को देखते हुए यह सत्र छोटा होगा। सोशल डिस्टेंसिंग एवं फिजीकल डिस्टेंसिंग को देखते हुए लॉबी, फस्र्ट फ्लोर एवं दर्शक दीर्घा का प्रयोग सदस्यों के बैठने के लिए किया जायेगा। दर्शक दीर्घा में दर्शकों को इस बार अनुमति नहीं दी जायेगी। इसके साथ ही पूर्व सांसदों एवं विधायकों को जारी परमानेंट पास सत्र के दौरान स्थगित रहेंगे।

 

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here